जानिए किस तरह लता मंगेशकर ने इस पाकिस्तानी ऑटो ड्राइवर को बना दिया गायक

फेसबुक पर शेयर किए गए वीडियो के जरिए लोकप्रियता पाने वाले पाकिस्तान के शहर कराची के एक ऑटो चालक का कहना है कि भारतीय दिग्गज गायिका लता मंगेशकर से मिली प्रशंसा के बाद उसने ऑटो चलाने का काम छोड़ दिया है। वह अब गाना सीखने पर ध्यान दे रहा है। टेलीविजन चैनल ‘दुनिया न्यूज’ की रिपोर्ट के अनुसार, असलम नाम के इस ऑटो चालक ने अब अपने घर में हारमोनियम पर गायकी का अभ्यास शुरू कर दिया है। वह हमेशा इसकी शुरुआत ‘ठुमरी’ से करता है, जिसके वीडियो से उसे लोकप्रियता हासिल हुई है।

लता मंगेशकर

लता मंगेशकर द्वारा तारीफ पाने के बाद छोड़ दिया रिक्शा चलाना

असलम ने कहा कि मैं ताज्जुब में पड़ गया जब लता जी ने मेरी आवाज और कौशल की तारीफ की। उसी वक्त से मैंने रिक्शा चलाना छोड़ दिया। 55 वर्षीय असलम ने पाकिस्तान के दिग्गज गायक गुलाम अली की गाई ठुमरी ‘याद पिया की आए’ को अपनी आवाज में गाते हुए उसका एक वीडियो सोशल मीडिया पर जारी किया था। इस वीडियो ने असलम को काफी लोकप्रियता बना दिया।

ग्रैंड फिनाले तक पहुंचे थे असलम

इस वीडियो के जारी होने के कुछ घंटे बाद ही लता मंगेशकर ने इसे अपने फेसबुक पेज पर साझा किया। इस वीडियो को साझा करने के साथ ही लता ने लिखा कि वह इतने प्रतिभाशाली गायक को सुनकर हतप्रभ हैं, वह उन्हें माइक के सामने गाते देखना चाहती हैं न कि रिक्शा चालक के रूप में। असलम का सुर्खियां बटोरना नई बात नहीं है। उन्होंने 1993 में एक टेलीविजन कार्यक्रम में हिस्सा लिया था और वह इसके ग्रैंड फिनाले तक पहुंचे थे। उन्होंने कुछ पाकिस्तानी फिल्मों के लिए भी अपनी आवाज दी है, लेकिन बीमार पड़ने के कारण असलम इस सफलता को आगे नहीं ले जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published.