राजनीति

इस शख्स ने राम मंदिर के लिए दान में दिया 1 करोड़ रुपए, भूमि पूजन शुरु

राम मंदिर का मुद्दा इन दिनों सबसे चर्चित मुद्दा बना हुआ है। लोग एक से बढ़कर बढ़कर एक दावे कर रहे हैं तो वहीं बयानबाजी के वक्त में राम मंदिर के निर्माण के लिए एक भक्त ने पैसे भी भेज दिए हैं। प्रतापगढ़ के रियल स्टेट कारोबारी और राम भक्त सियाराम ने राम मंदिर के निर्माण के लिए एक करोड़ रुपए का दान दिया है। दान के लिए यह चेक विश्व हिंदू परिषद के नाम जारी किया गया है। वह राम मंदिर के निर्माण के लिए आतुर हैं।

जमीन बेची ताकी बने मंदिर

सियाराम ने कहा है कि यह पैसा रामजन्भभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्यगोपाल दास के पास भेजा जाएगा। सियाराम ने एक करोड़ की रकम मंदिर निर्माण में दान देने के लिए अपनी जमीन बेच दी। सियाराम आरएसएस में रह चुके हैं और प्रतापगढ़ धाम मंदिर के प्रबंधक हैं। बता दें कि राम मंदिर का मुद्दा बीजेपी के साथ साथ दूसरी पार्टियों के लिए भी चुनाव परिणाम का केंद्र बनता जा रहा है।

उद्धव ठाकरे भरेंगे हुंकार

25 नंवबर को VHP यानी विश्व हिंदू परिषद अयोध्या में संत सम्मेलन शुरु करने की तैयारी कर रही है और शिवसेना ने उसी दिन अपने अध्यक्ष उद्धव ठाकरे की बड़ी रैली कराने की घोषणा की है। खबर है कि उद्धव ठाकरे एक दिन पहले यहां पहुंचेंगे और करीब 100 हिंदू धर्माचारियों को सम्मानित करेंगे। आरएसएस( RSS) भी राम मंदिर के मुद्दे पर अपनी बात रखता आ रहै है। उनका मानना है कि जल्द से जल्द राम मंदिर का निर्माण हो जाए। दूसरी तरफ वीएचपी( VHP) ने भी धर्मसभा का आयोजन कर राम मंदिर निर्माण की ओर एक कदम और बढ़ा दिया है।

साधु-संत होंगे एकत्रित

ऐसा माना जा रहा है कि देशभर के साधू संत और बजरंग दल के कार्यकर्ता भी इस आयोजन का हिस्सा होंगे। राम मंदिर के मुद्दे को लेकर आगे बढ़ी बीजेपी के सामने कई लोग आ गए हैं जो चाहते हैं कि राम मंदिर का निर्माण जल्द से जल्द हो। वीएसपी, शिवसेना, बजरंग दल, आरएसएस के साथ साथ करणी सेना भी इस मुद्दे पर अपनी बात रख चुकी है। स्वयं सेवक और बीजेपी के कार्यकर्ता 25 नंवबर को अयोध्या के लिए कूच करेंहे और करीब 25 हजार कार्यकर्ता के अयोध्या जाने की संभावना है।

लक्ष्मण किले पर भूमि पूजन

उद्धव ठाकरे भी अपने दल बल के साथ अयोध्या पहुंचने की तैयारी में है। वह पुणे जिले में शिवनेरी किले की मिट्टी को एक कलश में भरकर अयोध्या लाएंगे। यह मिट्टी रामजन्मभूमि के महंत को दी जाएगी। पार्टी के वरिष्ठ नेता और सांसद संजय  राउत ने अयोध्या पहंच कर लक्ष्मण किले पर भूमि पूजन भी कर दिया। अब जब उद्धव ठाकरे अयोध्या पहुंचेंगे तो सबसे पहले वह राम मंदिर क निर्माण पर बात करेंगे। शिवसेना ने पहले ही नारा दिया है- हर हिंदी की यही पुकार, पहले मंदिर फिर सरकार।

बता दें कि राम मंदिर के मुद्दे पर बीजेपी घिरती नजर आ रही है। इसके साथ ही शिवसेना का मानना है कि बीजेपी जनता को धोखे में रख रही है। जैसे बीजेपी ने जनता के खाते में 15 लाख रुपए डालने का जुमला दिया था वैसा ही जुमला राम मंदिर के लिए दिया। अब ऐसा नहीं होगा, जब तक राम मदिर नहीं बनेगा तक किसी की भी सरकार नहीं बनेगी।

यह भी पढ़ें

Back to top button