स्वास्थ्य

इस कद के लोगों को होता है कैंसर होने का ज्यादा खतरा

न्यूज़ट्रेंड वेब डेस्क: कैंसर एक ऐसी बीमारी है जिसका पूरी तरह से इलाज होना अभी भी असंभव है, हालांकि यदि उसका सही स्टेज पर पता लग जाता है तो इस बीमारी का इलाज किया जा सकता है। कैंसर किन चीजों की वजह से होता है यह बात सभी को पता होती है, हालांकि जिन चीजों से कैंसर होने का खतरा होता है उन चीजों पर उसकी चेतावनी लिखी होती है। जिनसे आप उन चीजों के सेवन से खुद को रोक सकते हैं, लेकिन तब क्या हो जब कैंसर आपको एक ऐसी वजह से हो रहा हो जो आपको अपने पैदा होने के साथ मिला हो, सुनकर लगा ना अजीब लेकिन यह सच है। तो अब आपको बताते हैं पूरी बात है क्या।

एक अच्छी पर्सनैलिटी में आपकी फिजीक के साथ आपकी हाइट भी मैटर करती है, अगर आप अच्छे कद के हैं तो आपकी पर्सनैलिटी में चार चांद लग जाते हैं। लेकिन ये पर्सनैलिटी में चार चांद लगाने वाली ये लंबाई आपके लिए खतरनाक भी हो सकती है।

एक नई स्टडी के मुताबिक ये बात सामने आई है जिसके चलते पता लगा है कि छोटे लोगों की तुलना में लंबे लोगों को कैंसर होने का खतरा ज्यादा होता है और इसकी वजह होती हैं उनके शरीर में कोशिकाओं की संख्या ज्यादा होना।

स्टडी के मुताबिक, औसत लंबाई से हर 10 सेमी या फिर 4 इंच ज्यादा लंबाई होने पर कैंसर होने का खतरा 10 फीसदी बढ़ जाता है। लंबे लोगों के शरीर में कोशिकाएं ज्यादा वृद्धि करती हैं जिनसे कैंसर का खतरा बढ़ जाता है।

इस स्टडी में मुताबिक महिलाओं की औसत लंबाई 162 सेमी (5 फीट, 4 इंच) और पुरुषों के लिए औसत लंबाई 175 सेमी (5 फीट, 9 इंच) मानी गई है।

बता दें कि लंबाई की वजह से कैंसर की संभावना पर पहले भी रिसर्च हो चुकी है, जिनमें स्वास्थ्य समस्याएं जैसे-ब्डल क्लॉट्स, हार्ट की समस्याओं का कद से संबंध बताया गया था।

शोधकर्ताओं के मुताबिक, लंबे लोगों में ग्रोथ हार्मोन आईजीएफ-1 अधिक मात्रा में पाया जाता है, यह हार्मोन ही लंबे लोगों में कोशिकाओं के विभाजन की प्रक्रिया को तेज करता है। यदि कोशिकाएं अनियंत्रित तरीके से विभाजित होती हैं तो इससे ट्यूमर का खतरा बढ़ जाता है और आगे चलकर यही चीज कैंसर होने का खतरा बन जाती है।

यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया रिवरसाइड में बायोलॉजी के प्रोफेसर लियोनार्ड नने ने कैंसर पीड़ित लोगों का डेटा विश्लेषण किया जिसमें 10,000 पुरुष और 10,000 महिलाएं शामिल थीं, जिसमें नने ने कैंसर के खतरे और कद के संबंध का भी अध्ययन किया।

नने के इस परीक्षण में 23 में से 18 मामलों में व्यक्ति की कोशिकाओं की संख्या और कैंसर के खतरे के बारे में संबंध देखने को मिला।
रिसर्च में यह भी सामने आया कि लंबी महिलाओं को कैंसर होने का खतरा 12 फीसदी तक बढ़ जाता है जबकि लंबे पुरुषों को यह खतरा 9 फीसदी तक बढ़ता है। कोलन, किडनी और लिम्फोमा कैंसर में कद का संबंध ज्यादा देखने को मिला।
कैंसर रिसर्च यूके के जार्जिना हिल ने बताया, “कैंसर के खतरे से लंबाई के संबंध के बारे में बहुत पहले से ही पता है. कोई जितना लंबा होगा, कैंसर का खतरा उतना ही ज्यादा होगा.”

ऊपर बताए गए अधय्यन का ये अर्थ बिल्कुल नहीं है कि आपको कैंसर आपकी लंबाई की ही वजह से होगा। लोगों को कैंसर से बचने के लिए धूम्रपान बंद करना चाहिए और अपना वजन पर नियंत्रण रखना चाहिए। इसके अलावा नियमित तौर पर एक्सरसाइज करते रहना चाहिए।

 

Related Articles

Close