पीएम मोदी ‘मैं नहीं हम’ पोर्टल, ऐप के जरिये अपनी पार्टी फ़ंड जुटाने की अपील

‘सेल्‍फ फॉर सोसायटी’ थीम को बढ़ावा देते हुए प्रधानमंत्री आज बुधवार को देश भर में ‘मैं नहीं हम’ पोर्टल और ऐप लॉन्च करेंगे और इस खास मौके पर वे आईटी और इलेक्‍ट्रॉनिक विनिर्माण क्षेत्र के उद्यमियों से संवाद भी करेंगे। आपकी जानकारी के लिए बताते चलें की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने एप के माध्यम से भाजपा को 1000 रुपए दान दिया और देश के जिम्मेदार नागरिकों से भी पार्टी को चंदा देने की अपील की। पीएम मोदी का मानना है की इस तरह से सम्पूर्ण देश में पारदर्शिता का सन्देश जाएगा और ‘राष्ट्र सेवा’ का पार्टी कार्यकर्ताओं का संकल्प दृढ़ होगा।

पीएम मोदी बुधवार को जारी करेंगे ‘मैं नहीं हम’ पोर्टल और एप

इसके अलावा पीएम मोदी ने ट्वीट के माध्यम से कहा, ‘नरेंद्र मोदी एप के माध्यम से मैंने भाजपा को दान दिय, मैं आप सभी से इस एप के माध्यम से पार्टी को चंदा देने और सार्वजनिक जीवन में पारदर्शिता का संदेश फैलाने की अपील करता हूं।’

बताते चलें की इस पोर्टल के जरिए समाज की बेहतरी के लिए काम करने के इच्‍छुक लोगों की व्‍यापक सहभागिता को भी बढ़ावा मिल पाएगा और सिर्फ इतना ही नहीं बल्कि इसे देश में एक पारदर्शिता भी आएगी। पीएम मोदी ने आगे कहा की देश का हर नागरिक इस एप के जरिये पांच रुपए से लेकर 1000 रुपए तक की राशि स्वेछा से चंदे के रूप मे दे सकता हैं। बताया जा रहा है की “मैं नहीं हम” पोर्टल और ऐप के माध्‍यम से देश में मौजूद तमाम प्रौद्योगिकी का लाभ समाज के कमजोर वर्ग तक पहुंचाने के लिए लगातार सहयोग के प्रयासों में तेजी लाई जा सकेगी। सिर्फ इतना ही नहीं बल्कि इस ऐप की मदद से समाज की बेहतरी के लिए काम करने के इच्‍छुक लोगों को भी बढ़ावा देने के योजना है।

जानकारी के लिए बताते चलें की यह पूरा कार्यक्रम देश की राजधानी दिल्ली में होगा जहां पीएम मोदी करीब देशभर के कई आईटी पेशेवरों और उद्योगपतियों के साथ-साथ इलेक्‍ट्रॉनिक उपकरण बनाने वाली तमाम कंपनियों के कर्मचारियों को भी सम्बोधित करेंगे। इस अवसर पर देश भर के 100 से ज्‍यादा स्‍थानों से आईटी और इलेक्‍ट्रॉनिक विनिर्माता वीडियो कांफ्रेंस के जरिए आयोजन से जुड़ेंगे।

पहले भी हो चुका है ‘मैं नहीं, हम’ का इस्तेमाल

आपकी जानकारी के लिए यह भी बताते चलें की 2014 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी ने ‘मैं नहीं, हम’ नारे का इस्तेमाल किया था जिसमे एक पोस्टर में इस नारे के साथ कॉंग्रेस के वर्तमान अध्यक्ष राहुल गांधी नजर आ रहे थे। मगर आपको यह भी बताते चलें की इस नारे का इस्तेमाल बीजेपी ने कॉंग्रेस से भी पहले वर्ष 2011 में किया था। बताते चलें की ‘मैं नहीं, हम’ का नारा मोदी ने फरवरी 2011 में ही दिया था और आपको यह भी पता होना चाहिए की पीएम मोदी का यह कैंपेन गुजरात सरकार के कामों से जुड़ा हुआ था। फिलहाल अगले लोकसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए बीजेपी सरकार ने हर तरफ से अपनी कमर कस ली है और किसी भी स्टार पर कोई भी कमी नहीं छोड़ना चाहती और लगातार अपने काम और प्रयासों से देश का दिल एक बार फिर से जीतने की तैयारी में लग गयी है।