ज्यादातर लोग नहीं जानते हैं ग्रीन टी का सही सेवन, जानिये क्या है इसका राइट तरीका

ग्रीन टी का सेवन : वैसे तो ग्रीन टी को फायदेमंद हर्बल ही बताया जाता है। यकीनन ये फायदेमंद है, लेकिन सिर्फ तभी तक जब तक इसका संयमित इस्तेमाल किया जाए। बीते कुछ सालों में ग्रीन टी पीने का चलन भी बढ़ा है। वजन कम करने के लिए सबसे अच्छा पेय पदार्थ बताया जाता है इसलिए ये बहुत ही लोकप्रिय बन चुका है। ग्रीन टी में बहुत अधिक मात्रा में एंटी ऑक्सीडेंट पाया जाता है, ये वजन घटाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है।

बता दें कि ग्रीन टी में बहुत सारे आयुर्वेदिक गुण पाए जाते हैं इसलिए ये स्वास्थय के लिए फायदेमंद होता है। इसका सबसे ज्यादा प्रयोग वजन कम करने के लिहाज से किया जाता है। आयुर्वेद में बताया जाता है कि इसका रोजाना सेवन करने से बहुत से बीमारियों से दूर रहा जा सकता है।

लेकिन आपको बता दें कि एक दिन में दो या इससे ज्यादा कप ग्रीन टी पीना स्वास्थय के लिए नुकसानदेह भी हो सकता है। दूसरे पेय पदार्थों की तरह ग्रीन टी में भी कैफीन पाया जाता है इसलिए ये स्वास्थय के लिए हानिकारक होता है। अधिक मात्रा में ग्रीन टी का सेवन सिर दर्द, पेट दर्द, कब्ज, एसीडिटी जैसी समस्याओं का कारण बन सकता है।

इसलिए ग्रीन टी का पूरी तरीके से फायदा लेने के लिए इसका सही इस्तेमाल बहुत ही जरूरी है। तो चलिए जानते हैं कि ग्रीन टी को किस तरह से इस्तेमाल करके इसका पूरा फायदा लिया जा सकता है। आइये जानते हैं कब और कैसे कितने मात्रा में ग्रीन टी का सेवन करना चाहिए।

ग्रीन टी का सेवन : पीने का सही तरीका

1. दवाओं के साथ न लें

अगर आपको दवा चाय के साथ लेने की आदत है तो ग्रीन टी के साथ दवा न लें। इससे स्वास्थय संबंधी परेशानी आ सकती है और हाई ब्लड प्रेशर की समस्या हो सकती है।

2. दूध या शक्कर न मिलाएं

ग्रीन टी में कभी भी दूध या शक्कर न मिलाएं, इसे सिर्फ गर्म पानी में मिलाकर पीएं। इससे आपको फायदा होगा। अगर इसमें आप दूध या शक्कर मिला देते हैं तो ये नकारात्मक प्रभाव डालता है और इससे शरीर को नुकसान भी पहुंच सकता है।

3. खाली पेट न पीएं

अन्य पेय पदार्थों की तरह कभी भी ग्रीन टी को खाली पेट न पीएं। अक्सर लोगों के मन में ये भ्रम होता है कि सुबह सुबह खाली पेट ग्रीन टी पीएंगे तो वजन तेजी से कम होगा लेकिन ऐसा नहीं है। खाली पेट ग्रीन टी पीना शरीर के लिए नुकसानदेह हो सकता है। इसलिए हमेशा ध्यान रखें कि कुछ हल्का नाश्ता के बाद ही ग्रीन टी का सेवन करें।

4. ताजा ग्रीन टी सेहत के फायदेमंद

ग्रीन टी बनाकर उसे 20-25 मिनट बाद कभी सेवन न करें। ग्रीन टी को हमेशा ताजा ही पीएं। अगर लंबे समय तक ग्रीन टी बनाकर रख देंगे तो उसमें विटामिन और एंटी ऑक्सीडेंट गायब हो जाएंगे। इससे आपको ग्रीन टी पीने का फायदा नहीं मिलेगा।

इसके अलावा अधिक मात्रा में ग्रीन टी पीने से नुकसान भी होता है तो आइये जानते हैं कि इसके नुकसान क्या क्या हैं।

1. ग्रीन टी के नुकसान : एनीमिया

अगर अधिक मात्रा में  ग्रीन टी का सेवन करेंगे तो एनीमिया जैसी बीमारियों का खतरा बना रहेगा।

2. ग्रीन टी के नुकसान : सिरदर्द

अधिक मात्रा में ग्रीन टी पीने से सिर दर्द की शिकायत हो सकती है। ग्रीन टी में भी कैफिन होता है यही सिर दर्द का कारण बनेगा। ऐसे में कोशिश करें कि दिन में एक या दो कप ही ग्रीन टी पीएं।

3. ग्रीन टी के नुकसान : दिल की बीमारी

ज्यादा ग्रीन टी पीना दिल के सेहत के लिए भी ठीक नहीं है। अगर आपको ग्रीन टी की लत लग गई है और अधिक मात्रा में इसका सेवन करते हैं तो दिल से जुड़ी कई बीमारियां हो सकती हैं।

4. ग्रीन टी के नुकसान : अनिद्रा

इनशोमेनिया का कारण भी अधिक मात्रा  में ग्रीन टी पीना है। ग्रीन टी के अति सेवन से अनिद्रा जैसी बीमारी हो सकती है। अगर आप 7 से 8 घंटे की नींद लेंगे तो आपको कई प्रकार की अन्य बीमारी भी हो सकती है।