सिर्फ ‘खाने की बुरी आदते’ ही नहीं, ‘खाने का समय’ भी देता है कैंसर को बुलावा

न्यूज़ट्रेंड वेब डेस्क:  भूख एक ऐसी बीमारी जो हर किसी को लगती है, कभी भी लगती है और जब लगती है तब आप खाना खा लेते होंगे, सही भी है आखिर भूख लगी है तो खाना तो खाएंगे ही लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि किसी भी वक्त भूख लगने और खाना खा लेने से आपको कैंसर जैसी भयानक बीमारी हो सकती है। सुनकर लगा ना झटका कि आखिर ऐसा कैसे हो सकता है कि खाने के गलत समय की वजह से आप इस भयानक बीमारी की चपेट में आ सकते हैं.

एक स्टडी के मुताबिक दिन में खाया जाने वाला सबसे आखिरी खाना यानि की डिनर के बाद भी जो खाना खाया जाता है वो कैंसर जैसी घातक बीमारी के लिए जिम्मेदार हो सकता है।

एक रिपोर्ट के मुताबिक जब शोधकर्ताओं मे रात का खाना खाने के तुरंत बाद ही सो जाने वाले लोगों पर शोध किया तो उसके जो परिणाम निकले उनके अनुसार रात में खाते ही सोने वाले महिला और पुरूषों में ब्रेस्ट और प्रोटेस्ट कैंसर होने का खतरा बढ़ जाता है। वहीं सोने से पहले 2 घंटे पहले खाना खाने वाले लोगों पर जब शोध किया गया तो उनमें ये कैंसर होने की संभावना 20 फीसदी तक कम हो जाती है।

बार्सिलोना इंस्टीट्यूट में हुई इस स्टडी को इंटरनेशनल जर्नल ऑफ कैंसर में प्रकाशित किया गया है.बता दें कि शोधकर्ताओं ने इस स्टडी के जरिए ये भी जानने की कोशिश भी की, कि आखिर ऐसा क्यो होता है कि खाने के समय ऐसा क्या होता है जो ब्रेस्ट और प्रोस्टेट कैंसर होने की संभावना को बढ़ाता है। स्टडी के दौरान शोधककर्ताओं ने 621 प्रोस्टेट कैंसर से पीड़ित और 1,205 लोग ब्रेस्ट कैंसर से जूझ रहे लोगों के डेटा की जांच की, जिनमें उन रोगियों की दिनचर्या से लेकर उनके खाने-पीने और सोने की आदतों के बारे में सवाल किए गए। ताकि इस बात का प्रमाण निकाला जा सके। स्टडी के दौरान जो शोधकर्ताओं को रोगियों के डाटा से ये देखने में सामने आया कि, कुछ लोग हैं जो ब्रेकफास्ट, लंच डिनर करते हैं, वहीं कुछ ऐसे लोग सामने आए जो दोपहर के खाने यानि लंच के बाद कुछ स्नैक्स लेते हैं, जबकि 7 फीसदी लोग ऐसे पाए गए जो रात के खाने यानि डिनर के बाद स्नौक्स लेते हैं।  शोधकर्ताओं की इस रिपोर्ट में सामने आया कि जो लोग खाना खाने के 2 घंटे बाद सोते हैं उनमें ब्रेस्ट और प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा उन लोगों की तुलना में काफी कम हो जाता है जो ठीक सोने से पहले कुछ खाते हैं।

वहीं शोधकर्ताओं ने बताया कि जो लोग रात में 9 बजे से पहले डिनर कर लेते हैं , उनमें 10 बजे के बाद खाना खाने वाले लोगों की तुलना में कैंसर होने का खतरा कम होता है। हालांकि इस टॉपिक पर शोधकर्ताओं की रिसर्च और स्टडी अभी चल रही है।

इसके साथ ही इस शोध में एक और बात सामने निकल कर आई जिसके चलते शोधकर्ताओं ने बताया कि जो लोग नाइट शिफ्ट करते हैं उनके शरीर की बायोलॉजिकल रिदम बिगड़ जाती है जिसकी वजह से कैंसर होने का खतरा बढ़ जाता है। यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया के क्लीनिकल प्रोफेसर Katie Ferraro के अनुसार जो लोग नाइट शिफ्ट में काम करते हैं उनका वजन जल्दी बढ़ता है. उन्होंने यह भी बताया कि नींद का पैटर्न बदलने से शरीर में हार्मोन का संतुलन बिगड़ जाता है, साथ ही रात में देर तक जगने से आपको भूख भी लगती है और आप पूरी रात कुछ ना कुछ खाते रहते है, जो आपके वजन को बढ़ाता है।

शोधकर्ताओं का ये भी कहना है कि ऐसा जरूरी नहीं की इन्हीं वजहों से कैंसर हो, इनके अलावा भी कई ऐसी चीजे हैं जो कैंसर के लिए जिम्मेदार होती हैं। खाने में समय के साथ आप खाने में क्या खाते हैं ये भी कैंसर के लिए जिम्मेदार हो सकता है। तो अब से कैंसर से बचने के लिए अपने खाने से लेकर के खाने के समय पर भी ध्यान रखिए।