सिंघाड़े के फायदे जानकर आप भी हो जाएंगे हैरान, कई गंभीर बीमारियों का करता है इलाज

सर्दी आने वाली है…हो गई पूरी तैयारी है….जी हां सर्दी का मौसम बस दस्तक दे ही चुका है। अब वो दिन दूर नहीं जब आपका रजाई से निकलकर ऑफिस जाने का मन नहीं किया करेगा। वैसे तो सर्दियों में कई फल आते हैं जो बाजारों में मिलते हैं, उन्हें में से एक सिंघाड़ा. सर्दियों के मौसम में आने वाला ये फल अमूमन सभी को काफी पसंद आता है। हरी चटनी के साथ उबला हुआ सिंघाडा खाने में जो मजा है उसे सिर्फ खाने वाला ही बयां कर सकता है। आप में से कई लोग इस बड़े चाव से खाते होंगे, लेकिन क्या आपको ये बात पता है कि सिंघाड़ा सिर्फ स्वाद में ही नहीं बल्कि स्वास्थय के लिए भी काफी फायदेमंद होता है। इसमें विटमिन ए, बी और सी भरपूर मात्रा में होता है। यह खनिज लवण और कार्बोहाइड्रेट के गुणों से भी भरपूर होता है। आयुर्वेद में भी सिंघाड़े को गुणों का खजाना बताया गया है। सेहत और स्वास्थय के लिए सिंघाड़ा कितना फायदेमंद है आपने कभी सोचा भी नहीं होगा, तो चलिए बताते हैं आपको सिंघाड़ा के फायदे।

सिंघाड़ा कितना फायदेमंद है चलिए बताते हैं आपको सिंघाड़ा के फायदे

सिंघाड़ा के फायदे

अस्थमा में फायदेमंद है सिंघाड़ा

अस्थमा के रोगियों के लिए सिंघाड़े का सेवन बहुत ही लाभदायक होता है, सिंघाड़े में कई ऐसे त्तव पाए जाते हैं जो सांस संबंधी होने वाली समस्याओं से आराम दिलाते है। अस्थमा के मरीज को सिंघाड़े के आटे को ठंडे पानी में मिलाकर इसका संवन करना चाहिए।

बवासीर मे ंलाभदायक है सिंघाड़ा

बवासीर की समस्या जिन रोगियों को हो उनको अपने खाने में कच्चे सिंघाड़े का सेवन करना चाहिए। बवासीर के ग्रसित रोगियों को नियमित रूप से सिंघाड़े का सेवन करना चाहिए, और जब सिंघाड़े का सीजन ना हो तो सिंघाड़े का आटे (बाजार में आसानी से मिल जाता है) की रोटियों का सेवन करना चाहिए। बवासीर जैसी गंभीर बीमारियों से निजात दिलाने में कारगर साबित होता है.

सिंघाड़ा के फायदे

खून साफ करने में फायदेमंद है सिंघाड़ा

सिंघाड़ा में कई ऐसे पोषक तत्व पाए जाते हैं जो शरीर के खून को स्वच्छ रखने में सहायक होते हैं। सिंघाड़े के सेवन से खून साफ होता है जिस वजह से त्वचा में भी चमक आती है। इसक साथ ही सिंघाड़े का सेवन मूत्र संबंधी रोगों के उपचार के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है। दस्त होने पर भी सिंघाड़े का सेवन काफी लाभदायी है।

हड्डियों को मजबूत करता है सिंघाड़ा

सिंघाड़े में कैल्शियम भरपूर मात्रा में पाया जाता है, अत: इसके सेवन से हड्डियां मजबूत होती हैं। इसके साथ ही इसमें पाए जाने वाले पौषक तत्व आंखों के लिए भी काफी फायदेमंद होते हैं।

सिंघाड़ा के फायदे

गर्भाशय को मजबूत बनाने में फायदेमंद है

जिन महिलाएं का गर्भाशय कमजोर हो उनके लिए सिंघाड़े का सेवन करना अत्यंत लाभकारी होता है, यदि महिलाएं नियमित रूप से कच्चे सिंघाड़े का सेवन करें तो इससे गर्भपात होने का खतरा कम होता है। प्रेग्नेंसी में सिंघाड़ा खाने से मां और बच्चा दोनों स्वस्थ रहते हैं। इसके साथ ही महिलाओं के लिए पीरियड्स, प्रेग्नेंसी,यूरिन प्रॉब्लम आदि में सिंघाड़ा बहुत फायदेमंद है और पीरियड्स से होने वाली समस्याएं भी खत्म होती है।

गले में इंफेक्शन में फायदेमंद है सिंघाड़ा

यदि आपके गले में इंफ्केशन हो गया है तो सिंघाड़ा आपके लिए एक रामबाण इलाज है। इंफेक्शन होने पर सिंघाड़े के आटे को दूध में मिलाकर पिएं, इससे इंफेक्शन में आराम मिला। सिंघाड़े में आयोडीन की पर्याप्त मात्रा पायी जाती है, अत: घेंघा जैसी गंभीर बीमारियों में भी सिंघाड़े का सेवन काफी फायदेमंद है।

सिंघाड़ा के फायदे

नकसीर में लाभदायक है सिंघाड़ा

नकसीर फूटने पर भी सिंघाड़ा का सेवन करना फायदेमंद होता है।

मांसपेशियां की कमजोरी में लाभदायक है

मांसपेशियों की कमजोरी में भी सिंघाड़े का सेवन काफी लाभकारी होता है। सिंघाड़ा पित्त और कफ को खत्म करता है।

सिंघाड़ा के फायदे

शरीर में ऊर्जा बढ़ाये

सिंघाड़े में कई ऐसे त्तव होते हैं जो शरीर को ऊर्जा प्रदान करते हैं, इसलिअ इसे व्रत के खाने में भी शामिल किया जाता है.

थायराइड में लाभदायक है सिंघाड़ा

सिंघाड़ा थायराइड की समस्या को दूर करता है, सिंघाड़े में आयोडीन की भरपूर मात्रा होती है।

तो देखा आपने जिस सिंघाडे को बस आप यूं ही खा लिया करते थे वो कितना फायदेमंद है। सिंघाड़े में विटामिन-ए, सी, मैंगनीज, थायमाइन, कर्बोहाईड्रेट, टैनिन, सिट्रिक एसिड, रीबोफ्लेविन, एमिलोज, फास्फोराइलेज, एमिलोपैक्तीं, बीटा-एमिलेज, प्रोटीन, फैट और निकोटेनिक एसिड जैसे पोषक तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं, जो सेहत के लिए फायदेमंद होते हैं। इसके साथ ही सिंघाडा पाचन तंत्र के लिए काफी लाभदायी होता है, साथ ही बुढ़ापे में होने वाली कई बीमारियों से भी बचाता है।