Viral

वास्तु दोष निवारण का बेहद सरल उपाय, घर तथा ऑफिस में भी आजमा सकते है

वास्तु दोष निवारण: ज्योतिष विज्ञान के अंतर्गत वास्तु का बहुत महत्वपूर्ण स्थान होता है, असल में भवन निर्माण के समय वास्तु का खास ध्यान रखना चाहिए क्योंकि यह घर की सुख-शांति और समृद्धि के लिए आवश्यक होता हैं। ऐसे में यदि मकान बनाते समय किसी कारण वश कोई वास्तु दोष रह जाता हैं तो आप इसका निवारण कुछ उपायों को करके कर सकते हैं, जिससे की आप अपने घर में बिना किसी तोड़-फोड़ के के घर के वास्तु दोस्त से निजाद पा सकते हैं। यदि आपके घर में वास्तु दोष होने पर भवन में कई प्रकार की परेशानियां, अस्वस्थता, अकारण दुःख, हानि, चिंता एवं भय आदि बना रहता है। ऐसे में आपके लिए यहाँ पर कुछ वास्तु दोष निवारण बताए गए है जो आपके लिए बहुत ही फायदेमंद साबित हो सकता है।

 

वास्तु दोष निवारण

  • वास्तु दोष निवारण के लिए आप अपने घर के सामने लैम्प पोस्ट लगा दे या फिर घर के आगे अशोक का वृक्ष और सुगंधित फूलों के पेड़ के गमले लगा दें।
  • यदि आपके घर के सामने कोई बहुमंजिली इमारत हैं तो आप अष्ट कोणीय दर्पण, क्रिस्टल बाल तथा दिशा सूचक यंत्र आदि लगा सकते हैं।
  • बड़ा गोल आईना अपने मकान की छत पर इस तरह लगाएँ कि आपके मकान की संपूर्ण छाया उसमें नजर आयें।
  • यदि आपके मकान के पास में किसी फैक्टरी से धुआं निकलता हो, तो एग्जास्ट पंखा या वृक्ष लगा ले।

मकान के बीम से उत्पन्न होने वाले वास्तु दोष का निवारण

  • यदि आपके शयनकक्ष में बीम हो तो वास्तु दोष निवारण के लिए आप अपना बेड या डाइनिंग टेबल ना लगाएँ और यदि ऑफिस मे हो तो मेज व कुर्सियां ना रखे।
  • आप अपने घर के बीम के दोनों ओर बांसुरी लगा दें।
  • बीम के नीचे पवन घंटी लटका दें या फिर बीम को सीलिंग टायलस से ढक दें।
  • बीम के दोनों साइड हरे रंग की गणपति प्रतिमा लगा दें।
  • बेडरूम में घी का दीपक व अगरबत्ती जलाए, इससे आपका मन प्रसन्न रहेगा और इस बात का घ्यान रखें कि झाड़ू बेडरूम में ना रखे।
  • घर के मुख्य द्वार पर देहरी बना लें, इससे बुरे व अन्य दोष घर में प्रवेश नहीं कर पाएंगे।
  • ईशान कोण के दोष निवारण के लिए इस दिशा में पानी से भरा मटका रख दे और इस कोण को हमेशा साफ-सुथरा रखे।
  • अग्नि कोण दोष निवारण के लिए कोने में एक लाल रंग का बल्ब लगा दें और इस रात-दिन जलने दे।

  • वास्तु दोष निवारण के लिए अपने बेडरूम में दर्पण का प्रतिबिंब आपके पलंग पर ना पड़े और डबल बेड पर एक ही गद्दा रखें।
  • पति-पत्नी के बीच प्रेम-संबंध बना रहे इसके लिए प्रेमी परिंदे का चित्र या मेडरिन बतख का जोड़ा रखें।
  • घर के मुख्य द्वार पर गणेश भगवान को चढ़ाए गए सिंदूर से दायीं तरफ स्वास्तिक का चिन्ह बनाएं।
  • घर की खिड़कियां खोलकर रखें, ताकि घर में रोशनी और ताजी हवा आती रहे।
  • आप अपने घर के मध्य भाग में जूठे बर्तन साफ करने का स्थान ना बनाए क्योंकि इससे दोष उत्पन्न होता हैं।
  • आप अपने घर में जूते-चप्पल इधर-उधर या उल्टे पड़े हुए ना रहने दे वरना घर में अशांति उत्पन्न हो सकती हैं।
  • वास्तु दोष निवारण के लिए आप अपने घर के उत्तर-पूर्वी कोने को वायु प्रवेश हेतु खुला रखें, इससे मन और शरीर में नई ऊर्जा का संचार होगा।

Show More

Related Articles

Back to top button