नोटबंदी: इस शख्स से सीखिए कैसे करें बिना कैश ऐश

मुंबई – सरकार ने सबको चौंकाते हुए अचानक 500 और 1000 रुपये के नोटों को 8 नवंबर आधी रात से अमान्य कर दिया। वैसे तो यह कदम काले धन पर नकेल कसने के लिए उठाया गया है, लेकिन आम जनता को भी इस वजह से परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। मगर इस कदम से कुछ अच्छी बातें भी होंगी, जैसे कि कैशलेस ट्रांजैक्शंस को बढ़ावा मिलेगा। अगर आपके पास कैश नहीं है तो परेशान होने की जरूरत नहीं है। How to live without cash.

How to live without cash

नोटों को भूल जाएं, बिना कैश ऐसे करें लेनदेन –

नोटबंदी के बाद जब लोग बिना कैश के जीवन गुजारने के लिए संघर्ष कर रहे हैं वहीं मुम्बई में एक ऐसा शख्स भी है जिसे नोटबंदी से कोई फर्क नहीं पड़ रहा। मुंबई में रहने वाले 35 साल के फाइनैंशल टेक्नॉलजी पेशेवर अभिशांत पंत ने पिछले 200 दिनों से किसी भी तरह के भुगतान के लिए नकदी का इस्तेमाल नहीं किया है। और मजे कि बात यह है कि उनकी लाइफ मजे से चल रही है और वह चाय पीने से लेकर मॉल्स में शॉपिंग करने तक डिजिटल पेमेंट का ही इस्तेमाल कर रहे हैं।

दूर – दराज के इलाकों में भी कर सकते हैं डिजिटल पेमेंट –

अभिशांत के स्मार्टफोन में डिजिटल पेमेंट के सारे ऐप मौजूद हैं। वह दुकानों, होटलों और ट्रैवेल के दौरान भुगतान करने के लिए इन्हीं ऐप्स का इस्तेमाल करते हैं। उनका कहना है कि मोदी के कालाधन-मुक्त भारत बनाने में ऐसा करना जरूरी है।

उत्तराखंड में अभिशांत ने अपने टूर के दौरान एक गांव में चायवाले को 20 रुपये के पेमेंट के लिए डिजिटल पेमेंट सिस्टम का इस्तेमाल किया। गांव में इंटरनेट और नेटवर्क की समस्या को देखते हुए अभिशांत ने USSD सिस्टम का प्रयोग करना शुरू कर दिया। USSD एक ऐसा सिस्टम होता है जिसके माध्यम से टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइडर कंपनियां पेमेंट करने की सुविधा प्रदान करती हैं।

अभिशांत बताते हैं कि 500 और 1000 के नोटों के बैन होने के बाद उनकी जिंदगी पर कोई प्रभाव नहीं पड़ा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.