इन उपाय को फॉलो कर आप भी अपने दिल को हमेशा रख सकते हैं हमेशा स्वस्थ्य, दूर रहेंगी कई बीमारियाँ

भारत में भी अब दिल के मरीज़ों की संख्या तेज़ी से बढ़ती जा रही है, हाल के दिनों में दिल की बीमारियों के कारण होने वाली मौतों की संख्या में काफी ज्यादा इजाफा हुआ है। डॉयबिटीज़, उच्च रक्तचाप, हाई कोलस्ट्रोल, ध्रूमपान एवम आनुवांशिक कारणों से दिल की बीमारियों की संभावना बढ़ती है। शोध बताते हैं की दक्षिण पूर्व एशियाई आबादी में आनुवांशिक रूप से बीमार होने वाले लोगों की संख्या में इज़ाफ़ा हुआ है जिसे देखते हुए कई मशहूर कार्डियोलोजीस्ट द्वारा कुछ महत्वपूर्ण तरीके बताये हैं जिसे अपनाकर आप दिल की बीमारियों से हमेशा के लिए सुरक्षित रह सकते है, तो चलिये जानते है क्या क्या हैं वो तरीके।

सात सुरक्षित तरीके जिसे अपनाकर आप भी रख सकते हैं अपने हृदय को एकदम स्वस्थ

आरामपसंद जिंदगी से हो जाएँ दूर

आज के वक़्त में लोग अपने स्वास्थ का ख्याल बहुत कम रखने लगे हैं, गलत जीवनशैली उन्हें बीमार करती जा रही है। नियमित रूप से व्यायाम नहीं करने से शरीर सुस्त पड़ता है और धीरे धीरे बीमार भी। घंटो ऑफिस के कुर्सी पर बैठे बैठे शरीर में खून का प्रवाह असंतुलित हो जाता है। मोटापे से लोग अक्सर ग्रसित हो जाते हैं जिसके कारण उनमे डायबिटीज, हाइपरटेंशन और दिल की बीमारियो की शिकायतें बढ़ जाती हैं।

व्यायाम से रहें ऊर्जावान

व्यायाम दिल को करता है मज़बूत, कॉर्डियो जैसे व्यायाम दिल से खून पम्प करने की क्षमता बढ़ती है और दिल की मांसपेशियों को स्वस्थ करता है, नियमित व्यायाम से रक्त परिसंचरण नियंत्रित रहता है। शरीर में कोलेस्ट्रॉल कम होते हैं और ब्लड सुगर संतुलित हो जाता है।

सेहदमंद आहार रखे आपको निरोग

संतुलित और सेहतमंद आहार को अपनाने से शरीर को सही पोषण एवं उचित ऊर्जा मिलती है, इन दिनों लोगों में जंक फ़ूड के प्रति तेज़ी से रुझान बढ़ा है जिसकी वजह से बीमारियां तेज़ी से प्रभावित करती हैं। प्रोसेस्ड फ़ूड या डिब्बाबंद आहार हमारे शरीर और स्वास्थ लिए कभी अच्छा नहीं है। अत्यधिक फैट, अत्यधिक चीनी और नमक जिस भोजन में हो उससे बचें। हमारा आहार ऐसा हो जिसमे पर्याप्त मात्रा में मौजूद हो कैलोरीज़, प्रोटीन, विटामिन, मिनरल और लो सैचुरेटेड फैट।

पर्याप्त नींद बेहद जरूरी

अक्सर ऐसा देखने को मिलता है की ज्यादा काम और वक़्त की कमी की वजह से बहुत से लोग अपनी नींद को कम करने लगते हैं और काम को ज्यादा प्राथमिकता देते है। बता दें की ज्यादा पैसे कमाने और अपनी इच्छाओं की पूर्ति के लिए अपने स्वास्थ्य और दैनिक दिनचर्या को नजरंदाज करने लगते है जो की उनकी सेहत के लिए आगे चलकर सेहत पर काफी ज्यादा बुरा असर पड़ता है और इससे दिल का खतरा भी बढ़ता है। सामान्य और पर किसी भी इंसान के लिए कम से कम 7-8 घंटे की नींद लेना बहुत ही आवश्यक है, इससे दिल की बीमारियों की संभावना काफी हद तक कम हो जाती है।

तनाव से लें मुक्ति

तनाव हर बीमारियों की वजह बनती है और बदलते जीवनशैली में अब तो यह एक संकट जैसा शहरों में फैलने लगा है। तनाव में रहने वाले इंसान के शरीर में एड्रिनल हारमोन ज्यादा मात्रा में बनता है, अगर कोई व्यक्ति लम्बे समय से तनाव में रहता है तो दिल की बीमारियां उसे परेशान कर सकती हैं, योग और ध्यान इसके लिए फायदेमंद हो सकता है।