मजेदार जोक्स: एक दिन पप्पू समोसा खोलकर सिर्फ अंदर का आलू खा रहा था, ये देखकर एक आदमी बोला

पूरे दिन काम करके इंसान थक जाता है. ऐसे में खुद को तरोताज़ा करने के लिए जोक्स से बेहतर ऑप्शन और क्या हो सकता है. इसलिए आज के इस पोस्ट हम आपके लिए इंटरनेट पर वायरल कुछ ऐसे मजेदार जोक्स लेकर आये हैं जिन्हें पढ़ने के बाद आप हंस-हंस कर लोटपोट हो जाएंगे.

रेलवे स्टेशन की पूछताछ वाली खिड़की पर..

क्लर्क: कोहरे के कारण सभी ट्रेनें लेट हैं, किसी को कुछ और पूछना है क्या?

महिला: हां, क्या मैं इन कपड़ों में मोटी लग रही हूं?

और फिर क्लर्क ने इस दुनिया को अलविदा कह दिया…

पति (गुस्से में)- ये कैसा खाना बनाया है बिलकुल गोबर जैसा

पत्नी- हे भगवान! इस आदमी ने हर चीज चख रखी है

 

लल्लू (हंसते हुए)- क्यों भाई, अक्ल भी तेज करते हो क्या?

फेरी वाला- क्यों नहीं, हो तो ले आइए!

ध्यापक (छात्र से)- बताओ! काल कितने प्रकार के होते हैं?

छात्र- काल 3 प्रकार के होते हैं

अध्यापक- ओके, अब बताओ 3 प्रकार के काल कौन से हैं?

छात्र ने जवाब दिया- जी, डायल काल, मिस काल और रिसीव काल.

 

घर में पूजा चल रही थी…

पंडित जी ने पांच पान के पत्ते मंगाए.

मैंने ताश की गड्डी से पांच पान के पत्ते लाकर दे दिए.

फिर पापा ने मेरी पूजा की….

एक बार पप्पू डबल डेकर बस में चढ़ गया!

कन्डक्टर ने उसे उपर भेज दिया.

थोड़ी ही देर में पप्पू भागता हुआ नीचे आया..

कंडक्टर- क्या हुआ?

पप्पू- साले मरवाएगा क्या? उपर तो ड्राईवर ही नही है

 

राकेश- यार तू अपनी बीवी को किस नाम से बुलाता है?

रमेश- गूगल डार्लिंग

राकेश- ये कैसा नाम हुआ?

रमेश- क्या करूं, सवाल एक करता हूं और जवाब 100 मिलते हैं.

शिक्षिका- ओये इधर आ काम है

चपरासी- मैडम प्लीज आप मुझे मेरे नाम से बुलाया कीजिये

शिक्षिका- माफ करना, क्या नाम हे तुम्हारा?

चपरासी- प्राणनाथ

शिक्षिका- ये नाम रहने दो घर पर किस नाम से पुकारते हे तुम्हे?

चपरासी- बालम नाम से

शिक्षिका- ओ हो, मुहल्ले वाला नाम बताओ

चपरासी- साजन कहते हैं सब मुझे

शिक्षिका- में तुम्हे तुम्हारे सरनेम से बुलाऊंगी, सरनेम बताओ

चपरासी- स्वामी

शिक्षिका बेहोश….

एक आदमी ट्रैफिक जाम में रुका हुआ था.

अचानक वो हेलमेट पर खुजाने लगा.

उसके पास खड़ा आदमी उसे देखकर बोला- अरे भाईसाहब,

हैलमेट के ऊपर से क्यों खुजा रहे हो ?

आदमी- जब तेरी बगल में खुजली होती है

तो शर्ट उतार के खुजाता है क्या?

पप्पू ने एक ढाबा खोला…

अगले दिन एक आदमी उसकी दुकान पर आया

और चाय पीने लगा.

कुछ देर बाद आदमी बोला, “मेरी चाय में मक्खी डूब कर मर गई है”

पप्पू- तो इसमें मैं क्या करूं? मैं अपना ढाबा चलाऊं,

या मक्खियों को तैरना सिखाऊं!!

 

ट्रेन चली और संता जल्दी-जल्दी डिब्बे में चढ़ गया.

टीटी- दिखता नहीं ये लेडीज डिब्बा है?

संता- सॉरी जी, मुझे लगा आप मर्द हो.

दोस्तों, उम्मीद करते हैं कि आपको ये मजेदार जोक्स पसंद आये होंगे. पसंद आने पर लाइक और शेयर करना ना भूलें,