SBI ने जारी किया ये नया नियम, अब एटीएम से निकाल सकेंगे सिर्फ इतने ही रुपये

भारतीय स्टेट बैंक जो की देश की सबसे बड़ी बैंकिंग इकाई है ने अपने ग्राहकों के लिए एक बुरी खबर दी है, असल में बताया जा रहा है की बैंक ने एटीएम से कैश निकालने की सीमा में बड़ी कटौती की है जिसकी वजह से SBI के ग्राहकों काफी परेशानी उठानी पड़ सकती है। आपको बता दें की बड़ा फैसला लेते हुए भारतीय स्टेट बैंक ने एटीएम से धन निकालने की सीमा को सीधा सीधा 50 प्रतिशत तक घटा दिया है। यह नियम सभी स्टेट बैंक खाताधारकों पर 31 अक्टूबर क बाद से लागू हो जाएगा जिसके बाद ग्राहक जो अभी तक एक दिन में अधिकतम 40,000 रुपये कैश निकाल पाते थे वो अब केवल 20,000 तक ही निकाल सकेंगे।

आपकी जानकारी के लिए बता दें की SBI ने अपने सभी ब्रान्चों में भेजे गए आदेश में बताया है, ‘आए दिन एटीएम ट्रांजैक्शन में हो रहे धोखाधड़ी की बढ़ती शिकायतों को देखते हुए और ज्यादा से ज्यादा डिजिटल-कैशलेस लेनदेन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से अब एटीएम से कैश निकालने की सीमा को घटाने का फैसला किया गया है। फिलहाल यह नियम ‘Classic’ और ‘Maestro’ प्लैटफॉर्म पर जारी हुए सभी डेबिट कार्ड से निकासी सीमा को घटाया गया है।

इस वजह से लिया गया ये फैसला

असल में होता य था की कई सारे धोखेबाज एटीएम में स्किमिंग डिवाइस लगाकर लोगों के डेबिट कार्ड का पिन हैक कर लेते हैं और फिर इसके बाद उस जानकारी के जरिये लोगों के खाते से रुपए चुरा लेते हैं। हालांकि बैंक द्वारा आइसए समय में यह नियम लाना ग्राहकों के लिए काफी समस्या ल असकता है क्योंकि अब त्योहारों का सीजन शुरू होने वाला है और ऐसे में एटीएम से एक दिन में कम धनराशि निकलने पर उनकी ख़रीदारी पर काफी असर पड़ सकता है।

आपको यह भी बता दें की जब स्टेट बैंक के मैनेजिंग डायरेक्टर से इस नए नियम की वजह से ग्राहकों को होने वाली असुविधा के बारे में पूछा गया तो उन्होने बताया की हमारे एनालिसिस से इस बात की जानकरी हुई है की आमतौर पर एटीएम से लोग बहुत बड़ी धनराशि नहीं से निकलते है। नए नियम के अनुसार 20 हजार रुपये की लिमिट भी ज़्यादातर ग्राहकों के लिए पर्याप्त है, इसके साथ ही उन्होने यह भी बताया की जब कैश की निकासी छोटी रहेगी तो धोखेबाज़ों को चिन्हित करने में आसानी होगी।

ये हैं विकल्प

जानकारी के लिए बता दें की यदि किसी ग्राहक को ऐसा लगता है की उसे एक दिन में ज्यादा कैश की जरूरत पड़ सकती है तो वो अपने बैंक से संपर्क कर के ऊंचे वैरिएंट वाला एटीएम कार्ड ले सकता हैं। बताना चाहेंगे की ऐसे कार्ड उन ग्राहको को जारी किए जाते हैं, जो अपने बैंक अकाउंट में ज्यादा मिनिमम बैलेंस बनाए रखते हैं और इस तरह के कार्ड काफी ज्यादा सेफ भी रहते है जिसमे किसी तरह के स्कैम या धोखेबाज़ी की गुंजाइश काफी ज्यादा कम हो जाती है।

वैसे आपको यह भी बता दें की आपके एटीएम कार्ड के पिन की चोरी केवल एटीएम से ही नहीं होती है। ऐसा पॉइंट ऑफ सेल टर्मिनल और मर्चेंट आउटलेट्स पर लगे कार्ड स्वाइप डिवाइस से भी हो सकती है क्योंकि आज भी बहुत से ऐसे डेबिट कार्ड हैं जो अब भी मैग्नेटिक स्ट्रिप टेक्नोलजी पर चल रहे हैं और इस तरह के कार्ड्स से धोखाधड़ी होने की संभावना काफी ज्यादा बढ़ जाती है।