हरड़ के फायदे है कमाल के, इन बिमारियों के लिए है उपयोगी

हरड़ के फायदे: आयुर्वेद ग्रन्थ चरक संहिता में आयुर्वेद की ऐसी कईं जड़ी बूटियों एवं औषधियों के बारे में बताया गया है, जो प्राचीन काल से ही इस्तेमाल की जा रही हैं. इन्ही में से हरड भी एक ऐसी ही आयुर्वेदिक औषधि है जिसका इस्तेमाल कईं तरह के रोगों को मिटाने के लिए किया जाता है. हिंदी भाषा में इसको हरीतकी के नाम से भी जाना जाता है. वहीँ अंग्रेजी में हरड़ को ‘चेबुलिस मिरबोलान’ कहा जाता है. आज हम आपको हरड़ के फायदे बताने जा रहे हैं जोकि आपके लिए भगवान के वरदान से कम साबित नहीं होंगे. दरअसल, हरड़ में विटामिन सी और खनिज पदार्थों का भंडार पाया जाता है, जोकि हमारे शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ावा देता है.

आपको बता दें हरड़ यानी हरीतकी की खेती आम तौर पर उत्तर भारत, हिमालय क्षेत्र और पूर्व बंगाल में जाती है. इसका पेड़ ज़मीन तल से पांच हजार फीट ऊपर पाया जाता है. गौरतलब है कि हरड़ के पेड़ के फल , जडें एवं छाल तीनो ही उपयोगी है और कईं तरह की दवाइयों को बनाने में स्तेमाल किए जाते हैं. बहरहाल, चलिए जानते हैं हरड़ के फायदे आखिर क्या क्या हो सकता हैं, और यह किन किन रोगों से हमे निजात दिलवा सकता है.

हरड़ के फायदे- बवासीर के लिए

हरड़ के फल एवं बीज कब्ज़ और बवासीर का रामबाण इलाज साबित हो चुके हैं. यह शरीर में प्रवेश करके मॉल त्यागने की जटिलताओं में सहायक है. रोज़ाना नहाने से पहले स्नान करने वाली बाल्टी में 10 मिनट पहले हरड़ का चूर्ण मिला दें. इस पानी से नहाने के बाद आपके शरीर के सभी घाव एवं सुजन दूर हो जाएंगी.

हरड़ के फायदे- त्वचा के लिए

अगर आप एलर्जी या त्वचा संबंधित किसी समस्या से परेशान है तो हरड़ का काढ़ा आपके लिए लाभकारी साबित हो सकता है. इसके लिए आप हरड़ के फल को पानी में उबाल का काढ़ा बना लें और सुबह शाम सेवन करें. इससे आपकी एलर्जी हमेशा के लिए दूर हो जाएगी.

हरड़ के फायदे- पाचन तंत्र के लिए

रोज़ाना हरड़ का सेवन करने से हमारी पेट संबंधित समस्याएं दूर हो जाती है और यह हमारे पाचन तंत्र में सुधार लाता है साथ ही हमारी आंतो को स्वस्थ कर सकता है. एक रिसर्च के अनुसार हरड़ को आंतो के लिए सबसे उपयोगी बताया गया है. यह मॉल त्यागने में सहायक है. इसके लिए हर रोज़ 1 से 3 ग्राम हरड़ को एक कप गर्म पानी में मिला लें इससे आपको राहत मिलेगी.

हरड़ के फायदे- बालों के लिए

हरड़ के फल एवं बीज हमारे बालों के लिए बेहद उपयोगी साबित हो सकते हैं. हरड़ के फल को नारियल तेल में उबालकर (हरड़ पूरी तरह घुलने तक) लेप बनाएं और इसे बालों में लगाएं या फिर प्रतिदिन 3-5 ग्राम हरड़ पाउडर एक गिलास पानी के साथ सेवन करें. ऐसा करने से आपके बाल घने, काले एवं मजबूत बने रहेंगे.

हरड़ के फायदे- उलटी एवं दस्त के लिए

यदि आपको उलटी, मतली या दस्त की समस्या से जूझना पड़ रहा है तो हरड़ आपके लिए एकमात्र मददगार आयुर्वेदिक औषधि है. कच्चे हरड़ के फलों को पीसकर चटनी बनाएँ और एक चम्मच दिन में 3 बार लेने से से दस्त बंद हों जाएंगे. यह शरीर और मलाशय में हल्कापन लाता है जिस कारण रोग जल्दी ठीक हो जाते हैं.