भाजपा ने चली एक और बड़ी चाल जो उड़ा देगी काँग्रेस की रातों की नींद । पढ़ें और जानें …

संसदीय लोक लेखा समिति (पीएसी) की पुनर्गठित समिति में विवादास्पद अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर सौदे के मुद्दे लाने के लिए मंच तैयार हो गया है। भाजपा ने एस. एस.आहलुवालिया व रमेश पोखरियाल निशंक जैसे वरिष्ठ सदस्यों को इस महत्वपूर्ण संसदीय समिति से हटाकर उनकी जगह कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के मुखर आलोचकों को शामिल किया है। इस 22 सदस्यीय समिति में कांग्रेस अल्पमत में होगी। इस समिति के 15 सदस्य लोकसभा के और 7 राज्यसभा के हैं। इस समिति का स्वरूप दोनों सदनों में दलों की सदस्य संख्या देखकर तय होता है। अध्यक्ष के.वी. थॉमस सहित कांग्रेस के केवल चार सदस्य रह गए हैं, जबकि भाजपा के नौ सदस्य होंगे।

राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) में शामिल अकाली दल और शिवसेना के एक-एक सदस्य हैं जबकि नगालैंड के एममात्र सांसद नाइफियू रियो भी इसके सदस्य हैं। रियो की पार्टी नगालैंड पीपुल्स फ्रंट भी राजग का हिस्सा है। वर्ष 2016-17 के लिए एंग्लो-इंडियन समुदाय के एक मनोनीत सदस्य को भी इस कमेटी में शामिल किया गया है। तृणमूल कांग्रेस के दो सदस्य हैं, जबकि बीजू जनता दल, समाजवादी पार्टी और अन्नाद्रमुक के एक-एक सदस्य हैं। थॉमस के अलावा कांग्रेस के अन्य सदस्य हैं शांताराम नाईक, सत्यव्रत चतुर्वेदी और भुवनेश्वर कलिता। ये सभी राज्यसभा से हैं।

Modi-Amit-Shah

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के साथ पीएम मोदी की ये सेल्फी काफी चर्चित हुई थी।

एक मई, 2016 से बहाल हो चुकी पुनर्गठित पीएसी से दार्जिलिंग से सांसद आहलुवालिया और हरिद्वार से सांसद और उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री रहे निशंक हैं। प्रत्यक्ष तौर पर निशंक को अगले साल उत्तराखंड में होने वाले चुनाव को देखते हुए भाजपा ने यह कदम उठाया है। भाजपा के जिन लोगों को समिति में बनाए रखा गया है, उनमें किरीट सोमैया और अनुराग ठाकुर हैं। इसके अलावा जनार्दन सिंह सिग्रीवाल, अभिषेक सिंह, निशिकांत दुबे और विजय गोयल (राज्यसभा) हैं।लोकसभा से दो अन्य भाजपा सदस्य जो इस समिति में हैं, वे हैं शिवकुमार चनाबासप्पा उदासी और रीति पाठक जबकि उच्च सदन से अजय संचेती ने अनिल माधव देव का स्थान लिया है जिनका कार्यकाल 13 मई को समाप्त हुआ। शिवसेना ने पश्चिमोत्तर मुंबई से सांसद गजानन कीर्तिकर को बनाए रखा है जिन्हें कांग्रेस के घोर आलोचक के रूप में जाना जाता है। एंग्लो-इंडियन सदस्य रिचर्ड हे को इसमें जगह मिली है। हे भाजपा समर्थक माने जाते हैं।

राज्यसभा के जो पांच सदस्य हैं उनमें समाजवादी पार्टी के नरेश अग्रवाल समिति में नए आए हैं। अन्य सदस्य हैं तृणमूल कांग्रेस के सुदीप बंद्योपाध्याय और सुखेंदु शेखर राय, अकाली दल के प्रेम सिंह चंदूमाजरा, बीजद के भतृहरि महताब और अन्नाद्रमुक के पी. वेणुगोपाल।

Leave a Reply

Your email address will not be published.