लम्बे अर्से बाद केजरीवाल ने साधा राहुल पर निशाना, मंदिर-मस्जिद घूमने से नहीं होगा देश का विकास

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने हाल ही में राहुल गांधी की अमरनाथ यात्रा को लेकर उनपर तंज कसा है। इसके साथ ही उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इंदौर दौरे में दाऊदी बोहरा मुस्लिम समुदाय के कार्यक्रम में शामिल होने को लेकर उनपर भी तंज कसा है। अरविंद केजरीवाल ने दोनो के ऊपर तंज कसते हुए कहा कि 21वीं सदी के भारत के मंदिर और मस्जिद स्कूल, उच्च शिक्षण संस्थान और वर्ल्ड क्लास रिसर्च इंस्टिट्यूट हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दें कुछ दिनों पहले ही राहुल गांधी अपनी कैलाश मानसरोवर यात्रा से लौटे हैं।

राहुल गांधी मंदिर घूम रहे हैं और मोदी मस्जिद:

एक तरफ़ राहुल गांधी की कैलाश मानसरोवर यात्रा वहीं दूसरी तरफ़ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की शनिवार को इंदौर की बोहरा मुसलमानों के एक कार्यक्रम में मौजूदगी। इन दोनो ही बातों से अरविंद केजरीवाल ने दोनो पर निशाना साधा है। इसे लेकर केजरीवाल ने एक ट्वीट करते हुए कहा कि, राहुल गांधी जी मंदिरों में घूम रहे हैं, मोदी जी आजकल मस्जिदों में घूम रहे हैं। राष्ट्रनिर्माण मंदिर-मस्जिद से नहीं बल्कि लोगों को स्कूल, अस्पताल, सड़कें, बिजली, पानी देने से होगा। 21वीं सदी के भारत के मंदिर और मस्जिद स्कूल, उच्च शिक्षण संस्थान और वर्ल्ड क्लास रिसर्च इंस्टिट्यूट हैं।

पीएम मोदी ने सैयदना मुफ़द्दल सैफ़ुद्दीन के साथ लिया कार्यक्रम में हिस्सा:

ग़ौरतलब है कि शनिवार को इंदौर की सैफ़ी मस्जिद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की संगत से कई ग़ौर करने वाली तस्वीरें सामने आयी हैं। जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दाऊदी बोहरा मुस्लिम समुदाय के 53वें धर्मगुरु सैयदना मुफ़द्दल सैफ़ुद्दीन से साथ कार्यक्रम में हिस्सा लिया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नंगे पैर ही मस्जिद में प्रवेश किया। इसके बाद वो मजलिस में शामिल हुए। वहाँ पर पीएम मोदी को शाल ओढ़ाई गयी और तसबी दी गयी। उसे नरेंद्र मोदी ने माथे से लगाकर ख़ुशी-ख़ुशी स्वीकार किया।

राहुल गांधी मिटाना चाहते हैं हिंदू विरोधी होने का दाग़:

वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के ऊपर हमेशा हिंदू विरोधी होने का दाग़ लगता रहता है। इस दाग़ को मिटाने के लिए कभी वो सोमनाथ की यात्रा करते हैं तो कभी कहीं और की। इसके साथ ही वो ख़ुद को जनेऊ धारी ब्राह्मण भी कहते हैं। अपने ऊपर हिंदू विरोधी होने के दाग़ को मिटाने के लिए लगातार राहुल गांधी अपने चुनावी दौरे में मंदिर दर्शन करके इस मिथ्या को तोड़ने का प्रयास करते हुए नज़र आ रहे हैं। कैलाश मानसरोवर यात्रा भी उन्होंने इसी मक़सद से किया था। कैलाश मानसरोवर यात्रा के दौरान राहुल गांधी ने अपने ट्वीटर हैंडल से कई तस्वीरें भी साझा की थी।

राहुल गांधी की कैलाश मानसरोवर यात्रा के बारे में बात करें तो वह काफ़ी विवादास्पद रही। इस दौरान राहुल गांधी के खाने से लेकर उनकी फ़ोटो तक पर भाजपा ने जमकर हमला किया। भाजपा ने राहुल गांधी की यात्रा को प्रोपेगैंडा बताया। वहीं इस धार्मिक यात्रा के दौरान उनके ऊपर नॉनवेज खाने का भी आरोप लगा। हालाँकि इस आरोप के बचाव में नेपाल का वो रेस्टोरेंट भी सामने आया, जिसमें राहुल गांधी ने खाना खाया था। रेस्टोरेंट ने बताया कि राहुल गांधी ने शुद्ध शाकाहारी खाना खाया था।