जल्द संन्यास ले सकते हैं ये 3 भारतीय क्रिकेटर, नाम सुनकर टूट जाएगा करोड़ों क्रिकेट फैंस का दिल

भारतीय क्रिकेट टीम में बने रहना है तो अच्छा प्रदर्शन करना करना बहुत जरूरी है, चूंकि आज भारत में क्रिकेटर्स की कोई कमी नहीं है। हमारे देश में एक से बढ़कर एक गेंदबाज और बल्लेबाज मौजूद हैं। इसलिए जब कोई खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाता है तो सेलेक्टर्स के पास बहुत से ऑप्शंस होते हैं। इसलिए चाहे कितना भी एक्सपीरियंस्ड और बड़ा खिलाड़ी हो अगर वह लगातार खराब प्रदर्शन करेगा तो उसका टीम से बाहर होना तय है। वर्तमान में ऐसे बहुत से एक्सपीरियंस्ड और बड़े खिलाड़ी हैं जो अपने खराब परफॉर्मेंस की वजह से टीम से बाहर चल रहे हैं। आज हम कुछ ऐसे ही क्रिकेटर्स की बात करने वाले हैं जिनकी भारतीय टीम में वापसी के संकेत बहुत कम नजर आ रहे हैं और वो जल्द ही अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले सकते हैं।

गौतम गंभीर :

लंबे समय से भारतीय क्रिकेट टीम से बाहर चल रहे क्रिकेटर गौतम गंभीर भी जल्द ही संन्यास लेने की घोषणा कर सकते हैं। गौरतलब है कि इस बार गौतम cketersगंभीर को आईपीएल में दिल्ली डेयरडेविल्स का कप्तान बनाया गया था लेकिन आईपीएल में ना तो गौतम गंभीर का बल्ला चला और ना ही उनकी कप्तानी में दिल्ली की टीम कोई खास कमाल दिखा सकीं। जिसके बाद गंभीर ने आईपीएल के बीच में ही कप्तानी छोड़ दी थी। 2011 वर्ल्ड कप फाइनल के हीरो गौतम गंभीर के टीम इंडिया में वापसी के कोई आसार नजर नहीं आ रहें इसलिए कयास लगाए जा रहे हैं कि गंभीर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले सकते हैं।

हरभजन सिंह :

स्पिन गेंदबाज हरभजन सिंह ने अपनी शानदार गेंदबाजी से भारतीय क्रिकेट टीम को काफी मौकों पर जीत दिलाई हैं। लेकिन पिछले काफी समय वह भारतीय क्रिकेट टीम में अपनी जगह बनाने में असफल रहे हैं। चूंकि अब इंडियन टीम में हरभजन की जगह कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल जैसे नये गेंदबाजों ने ले ली है इसलिए अब ऐसा लग रहा है कि हरभजन सिंह जल्द क्रिकेट को अलविदा कह सकते हैं। हरभजन सिंह 37 साल के हो चुके हैं इसलिए उनके प्रदर्शन में भी गिरावट आ चुकी है इस बार के आईपीएल में भी वह कुछ खास परफॉर्मेंस नहीं कर पाएं। इसके अलावा बता दें कि हरभजन सिंह ने 3 साल से एक भी टेस्ट मैच नहीं खेला है, आखिरी बार उन्होंने 2015 में बांग्लादेश के खिलाफ टेस्ट मैच खेला था।

युवराज सिंह :

अगर क्रिकेटर युवराज सिंह के संन्यास की बात करें तो उनके करोड़ों फैंस का दिल टुट जाएगा लेकिन लंबे समय से अपने खराब प्रदर्शन की वजह से उनके दुबारा टीम में वापसी की संभावना बहुत कम नजर आ रही हैं। 2011 के वर्ल्ड कप में ‘मैन ऑफ द टूर्नामेंट’ रहे युवराज सिंह ने अपनी ताबड़तोड़ बल्लेबाजी से भारतीय क्रिकेट टीम को बहुत से मैच जिताए हैं। कैंसर जैसी गंभीर बीमारी को मात देकर युवराज सिंह ने जब फिर से बल्ला थामा तो उनकी हिम्मत की काफी सराहना की गई लेकिन अब वह टीम से बाहर है और आईपीएल में भी उनका प्रदर्शन बहुत ही निराशाजनक रहा, काफी मैचों में उनको खिलाया भी नहीं गया। अब अटकलें लगाई जा रही है कि युवराज सिंह क्रिकेट से संन्यास ले सकते हैं।