स्वास्थ्य

मच्छरों को भगाने के लिए कैमिकल को कहें गुडबॉय, आजमाएं ये घरेलू उपाय

प्रकृति के वातावरण में अनेक प्रकार के जीव जंतु का निवास होता है। मच्छर भी एक ऐसा ही जीव है। जो बहुत छोटा है लेकिन कहीं ज्यादा खतरनाक। मच्छर का प्रकोप किसी आतंक से कम नहीं होता। मच्छर उन इलाकों में अधिक पाए जाते हैं जहां नमी और गर्मी अधिक हो। यही कारण है कि भारत जैसे देश में सबसे अधिक मच्छर पाए जाते हैं। मच्छरों का सबसे अधिक प्रकोप बरसात के मौसम में रहता है। बरसात में जब पानी जगह जगह जमा हो जाता है तो मच्छर पैदा होते हैं। भारत में तो वैसे हर मौसम में मच्छर पाए जाते हैं। लेकिन बरसात का मौसम आते ही मच्छरों से बचना मुश्किल हो जाता है। इनका प्रकोप बढ़ने लगता है।

मच्छर कई खतरनाक बीमारियों के कारण बनते हैं। जैसे चिकनगुनिया, डेंगु, बुखार आदि यह सब बीमारी अवश्य ही बहुत कष्टदायी होता है। इन बीमारियों के डर से और मच्छरों के अधिक प्रकोप को देखते हुए इसके बचाव के लिए आप कुछ केमिकल चीजों का भी सहारा लेते होगें। परंतु केमिकल दवाइयों से शरीर में विभिन्न प्रकार के साइड इफेक्टस का खतरा बना रहता है। तो आज हम आपको बताएंगे कि कैसे आप बिना केमिकल दवाइयों के सिर्फ कुछ घरेलू उपायों से मच्छरों को दूर भगा सकते हैं और मच्छर के आतंक से बच सकते हैं।

  • कपूर- अगर आप भारत में रहते हैं तो कपूर आपके घर में जरूर होगा। क्योंकि इससे आस्था के रूप में भगवान की भी आरती उतारी जाती है। इसके अलावा इसके सुगंध और धुएं से घर की दूषित वायु भी दूर होती है। कपूर के प्रयोग से मच्छरों का खात्मा भी किया जा सकता है। मच्छरों को भगाना है तो एक कटोरे पानी में  कपूर डालकर कमरे के किसी कोने में रख दें। इसके कुछ ही समय बाद इससे उठने वाले धुएं से मच्छर दूर भागेंगे। यह तरीका आप कई दिनों तक आजमाते हैं तो आपको मच्छरों से छुटकारा मिल सकता है।

  • नीम के पत्तों का स्मोक- प्रकृति में कई प्रकार के ऐसे पत्ते और हर्ब हैं जिनके स्मोक या धुएं से मच्छर दूर भाग सकते हैं। नीम के पत्तों के जलने से उठने वाला धुआँ मच्छरों को दूर करता है। नीम के ताजे पत्ते को तोड़कर रख लें और इसे किसी ऐसे जगह में आग लगाएं जहां अन्य कोई ज्वलनशील पदार्थ न हो।

  • नींबू और लौंग- मच्छरों को खट्टे चीज बिल्कुल भी पसंद नहीं होते। कच्चे नींबू को दो टुकड़ों में काट लें और उसके गुदे में जितना हो सके लौंग लगा दें। और लौंग वाले हिस्से को उपर की ओर करें। इससे एक विशेष प्रकार की खुशबु उठेगी जो मच्छरों को बिल्कुल पसंद नहीं  होते, और वे आपके घर से दूर भाग जाएगें। और आप स्वच्छ वातावरण, शुद्ध हवा का आनंद ले सकते हैं।

  • भौतिक रूकावटें- मच्छरों को घर के अंदर आने ही न दें। शाम होने से पहले घर के वे सारे खिड़की बंद कर दें जहाँ से मच्छरों के आने का रास्ता होता है। अपने शरीर को पूरा ढँक कर रखें। रात को सोने से पहले मच्छरदानी लगा लें।

  • लौंग और नारियल तेल- लौंग और नारियल का तेल मिक्स करके शरीर में लगाएं। ऐसा करने से आपके शरीर के आसपास बिल्कुल भी मच्छर नहीं आएंगे।

  • पानी का जमाव न होने दें- घर के किसी भी हिस्से में पानी का बिल्कुल भी जमाव न होने दें। पानी के जमाव से मच्छर अधिक पनपते हैं। इसलिए घर में अगर कोई पक्षी हो या कबूतरों के पीने का पानी वाला जगह हो या कूलर में पानी हो तो उसे ध्यान दें और पानी का बिल्कुल भी जमाव न होनें दें।

Back to top button
?>