अगर आपके शरीर में झुनझुनी होती है तो आपको है यह खतरनाक बीमारी, जल्द कराएं इसका ईलाज

अगर आप अपने शरीर को स्वस्थ बनाए रखना चाहते हैं तो इसके लिए हर प्रकार के पोषक तत्वों की आवश्यकता होती है अगर हमें पर्याप्त मात्रा में पोषक तत्व प्राप्त हो तो हम बहुत सी बीमारियों से बचे रहते हैं इन्हीं पोषक तत्वों में से एक पोटेशियम नामक तत्व भी होता है अगर इस तत्व की कमी हमारे शरीर में हो जाती है तो इससे कई प्रकार की बीमारियां और विकार व्यक्ति को अपने शिकंजे में घेर लेते हैं जो व्यक्ति शाकाहारी होते हैं उन व्यक्तियों में इस पोषक तत्व की कमी सबसे अधिक पाई जाती है जिसकी वजह से इन व्यक्तियों को तनाव का भी सामना करना पड़ता है आप लोगों ने इस बात पर गौर जरूर किया होगा कि जो व्यक्ति तनावग्रस्त होते हैं उनको काला नमक डालकर केला खिलाया जाता है।

आज हम आपको इस लेख के माध्यम से अगर आपके शरीर में पोटेशियम की कमी होती है तो आपको किन-किन परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है इसके बारे में जानकारी देने वाले हैं।

आइए जानते हैं पोटेशियम की कमी से क्या परेशानियां हो सकती है

मांसपेशियां हो जाती है कमजोर

अगर किसी व्यक्ति के शरीर में आए दिन उसकी मांसपेशियों में दर्द होता रहता है तो यह पोटेशियम की कमी की ओर संकेत कराता है अगर व्यक्ति के शरीर में पोटेशियम की कमी हो तो उसको मांसपेशियों में दर्द का सामना करना पड़ता है।

शरीर के अंगों में झुनझुनी मचना

आप लोगों ने अपने शरीर के कुछ भागों में कभी गौर किया होगा कि कभी-कभी हमें झुनझुनी मचने लगती है यह पोटेशियम के कारण होता है क्योंकि पोटेशियम ही आपके तंत्रिका तंत्र को नियंत्रित करने में सहायता करता है।

मानसिक दबाव होना

अगर किसी व्यक्ति के शरीर में पोटेशियम की कमी होती है तो उसको मानसिक दबाव का सामना करना पड़ता है और कई बार तो व्यक्ति हमेशा तनाव में ही रहने लगता है इसके अतिरिक्त पोटेशियम की कमी से व्यक्ति को कब्ज की शिकायत भी होने की संभावना रहती है अगर शरीर में पोटेशियम की कमी हो तो पाचन प्रक्रिया ठीक प्रकार से नहीं हो पाती है।

दिल धड़कने लगता है तेजी से

जिस व्यक्ति के शरीर में पोटेशियम की कमी होती है उसका दिल सामान्य रूप से ना धड़क कर बहुत तेज गति से धड़कने लगता है क्योंकि पोटेशियम की कमी की वजह से हृदय की मांसपेशियों में संकुचन आ जाता हैं।

व्यक्ति को होने लगती है टेंशन

अगर व्यक्ति के शरीर में पोटेशियम की कमी होती है तो इससे रक्त वाहिकाओं में समस्या आने लगती है और मस्तिष्क का रक्त संचार ठीक प्रकार से नहीं हो पाता है जिसकी वजह से व्यक्ति की सोचने और समझने की शक्ति कम होने लगती है और उसको किसी भी बात को समझने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है।

मितली आना

अगर व्यक्ति के शरीर में पोटेशियम की कमी पाई जाती है तो इससे उसको मितली भी आने लगती है अगर आपके शरीर में ऐसा महसूस होने लगे तो समझ लीजिए कि आपके शरीर में पोटेशियम की कमी हो गई है आप इसके लिए जितनी जल्दी हो सके पोटेशियम तत्वों से भरपूर पदार्थों का सेवन करें जिससे पोटेशियम की कमी पूरी हो जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

three × four =