इस सावन में गलती से भी ना करें इन चीजों का सेवन, नाराज हो सकते हैं भोलेनाथ

हिंदू धर्म में सावन का महीना बहुत ही पवित्र माना जाता है और ऐसे में भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए सभी शिवभक्त बहुत से कार्य करते हैं जो भोलेनाथ को प्रिय होते हैं. सभी शिवभक्त भोलेनाथ की भक्ति में लीन होकर पूरे महीने शिवायलों में बोलबम-बोलबम का नारा लगाते हैं और शिवभक्ति में डूब जाते हैं. साल 2018 का सावन का महीना 28 जुलाई से शुरु हो रहा है और इसका पहला सोमवार 30 जुलाई को पड़ेगा, ऐसा बताया जा रहा है कि इस बार का सावन और उसमें पड़ने वाले सोमवार बहुत ही दुर्लभ योग हैं जो कई सालों के बाद आ रहा है. इस सावन में गलती से भी ना करें इन चीजों का सेवन, अगर आपने ऐसा किया तो भोलेनाथ प्रसन्न होंगे और बहुत अपने भक्ति में डूबे लोगों को अच्छा फल मुख्य रूप से अवश्य ही देंगे.

इस सावन में गलती से भी ना करें इन चीजों का सेवन

श्रावण मास यानि सावन का महीना शिवभक्ति के लिए सबसे खास माना जाता है. ऐसी धार्मिक मान्यता है कि इस महीने में भगवान शंकर अपने धामों में निवास करते हैं और धरती पर भ्रमण करते हुए अपने भक्तों पर खास नजर रखते हैं. ऐसे में अगर आपने हर वो काम किये जो शंकर भगवान को प्रिय हैं तो वे कितने खुश होंगे इसका अंदाजा आपको आने वाले जीवन में लग जाएगा. मगर ऐसी कौन सी चीजें हैं जिनका सेवन हमें सावन के महीने में नहीं करना चाहिए ? चलिए बताते हैं आपको इस बारे में.

1. बैंगन

सावन के महीने में बैंगन नहीं खाया जाता है क्योकि इस समय इसे अशुद्ध माना जाता है. बारिश के दौरान बैंगन में कीड़े ज्यादा लगते है और धार्मिक मान्यताओं के अनुसार अगर हम व्रत के दौरान अशुद्ध चीजों का सेवन करते है तो ऐसी बातों से भगवान शिव अप्रसन्न हो जाते है जिससे हमारा व्रत भी टूट जाता है. इसलिए इन चीजों से परहेज रखना रखना ही बेहतर माना जाता है.

2. दूध डेयरी प्रोडक्ट्स

सावन के महीने में हमें दूध और अन्य डेयरी प्रोडक्ट्स के सेवन से बचना चाहिए और इनका इस्तेमाल नहीं करना चाहिए. शिवजी को दूध अर्पित तो किया जाता है लेकिन इसका सेवन करना गलत माना जाता है.यह भी वात दोष को बढ़ाती है जिससे सेहत से जुडी समस्या उतपन्न हो जाती है. साथ ही यह भी कहा जाता है की ये सभी चीजे भगवान शिव को अर्पित की जाती है इसलिए इनका सेवन नहीं करना चाहिए.

3. पालक

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार हरी पत्तेदार सब्जियों को सावन के महीने में नहीं खाना चाहिए क्योंकि इससे शरीर में वात बढ़त है. जो हमारे शरीर के लिए बिलकुल भी अच्छा नहीं माना जाता है. इसके साथ ही इन महीनो में बैक्टीरिया और कीड़े की समस्या भी रहती है जो आप इन हरी सब्जियों में आसानी से देख सकते हैं.

4. मांस व मदीरा

ऐसा माना जाता है कि शिवभक्तों को मांस व मदीरा का सेवन करना जायज होता है लेकिन धार्मिक मान्यताओं के अनुसार किसी निर्जिव को मारकर खाना सबसे बड़ा अपराध है.  इस महीने आपको इन सब कुरीतियों का सेवन करने से बचना ही चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

one × two =