छात्रा ने किया खुदखुशी , सूइसाइड नोट में लिखा स्मृति जी को ये संदेश। ज़रूर पढ़ें…

खुदकुशी की लगातार बढ़ रही घटनाओं के बीच कोटा में कोचिंग संस्थानों को बंद करने को लेकर भी आवाज उठने लगी है। पिछले दिनों यहां 17 साल की एक छात्रा ने अपने घर की पांचवीं मंजिल से खुदकुशी के लिए छलांग लगाने से पहले जो सूइसाइड नोट लिखा था उसमें उसने केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी से ऐसी अपील भी की थी। आईआईटी में चयन के बावजूद उक्त छात्रा ने खुदकुशी कर ली थी।

गाजियाबाद की रहने वाली कीर्ति कोटा स्थित कोचिंग सेंटर से आईआईटी की तैयारी कर रही थी और उसने इस प्रतिष्ठित संस्थान के लिए जगह भी बना ली थी। कीर्ति ने चार पेज लंबे सूइसाइड नोट में लिखा है कि उसकी नासा में वैज्ञानिक बनने की तमन्ना थी और उसे इंजिनियरिंग बिल्कुल पसंद नहीं थी। पुलिस के अनुसार नोट में कीर्ति ने लिखा कि वह कोचिंग के अनुभव से बुरी तरह तनाव और डिप्रेशन में है और लाख कोशिशों के बावजूद उससे उबर नहीं पा रही है।

Suicide

एचआरडी मिनिस्टर स्मृति इरानी को संबोधित एक लाइन में उसने कहा कि कोचिंग संस्थानों को बंद कर दिया जाना चाहिए क्योंकि यहां कराई जाने वाली तैयारी छात्रों में तनाव और अवसाद को बढ़ा रही है।सिलेक्शन, फिर भी नाखुश कीर्ति ने आईआईटी में 144 नंबर हासिल किए थे। उसे नासा की तरफ से सम्मानित भी किया गया था और वह स्पेस एजेंसी से बतौर वैज्ञानिक जुड़ना चाहती थी।

एक और ने किया सूइसाइड बीए प्रथम वर्ष की छात्रा प्रीति सिंह (18) ने भी पढ़ाई के तनाव में आकर खुदकुशी कर ली। बताया जाता है कि उसने तीन दिन पहले फांसी लगा कर जान देने की कोशिश की थी और उसे अस्पताल में भर्ती किया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.