नसीरुद्दीन शाह के 20 जबरदस्त डायलॉग्स, जो उन्हें बनाती है सबसे अलग अभिनेता

20 जुलाई, 1950 को उत्तर प्रदेश के बाराबंकी में जन्में बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता नसीरुद्दीन शाह ने अपने अतरंगी अंदाज से सबका दिल जीता है. नसीरुद्दीन शाह ने बहुत सी सुपरहिट फिल्मों में काम किया है और दर्शकों ने उनके स्टाइल और अलग अंदाज को पसंद भी बहुत किया है. नसीरुद्दीन ने अपने डायलॉग बोलने के अंदाज से इंडस्ट्री में एक खास जगह बनाई जो फिलहाल किसी अभिनेता ने नहीं बनाई. आज उनके जन्मदिन के मौके पर हम आपको नसीरुद्दीन शाह के 20 जबरदस्त डायलॉग्स सुनाएंगे, आपको इनमें से कौन सा पसंद है ?

नसीरुद्दीन शाह के 20 जबरदस्त डायलॉग्स

नसीरुद्दीन शाह ने बॉलीवुड में एक लंबी पारी खेली है और उन्होंने त्रिदेव, मासूम, द डर्टी पिक्चर, अ वेडनसडे, इश्किया, सरफरोश, जाने भी दो यारों, मोहरा, मिर्जा गालिब, इरादा, विश्वात्मा, कृष, मैं हू ना, निशांत, राजनीति, इक़बाल और चाइना गेट जैसी हिट फिल्मों में काम किया है.

1. जब शराफत के कपड़े उतरते हैं तो सबसे ज्यादा मज़ा शरीफों को ही आता है – द डर्टी पिक्चर

2. कुछ होश नहीं रहता, कुछ ध्यान नहीं रहता. इंसान मोहब्बत में इंसान नहीं रहता – सरफरोश

3. इंसान की सबसे बड़ी गारंटी उसका अपना ज़मीर होता है – मोहरा

4. आपके घर में कॉकरोच आता है तो आप क्या करते हैं, राठौर साहब, आप उसको पालते नहीं मारते हैं – अ वेडनसडे

5. दोस्ती या दुश्मनी जब तक जम के ना हो मजा नहीं आता है – लहू के दो रंग

6. दिमाग और दिल जब एक साथ काम करते है ना तो फर्क नहीं पड़ता, दिमाग कौन सा है और दिल कौन सा है – इक़बाल

7. कैंसर से ज्यादा खौफनाक बीमारी तो आपके रगों में दौड़ रही है. नफरत की बीमारी, शक की बीमारी – चाइना गेट

8. इधर जा रहे हो या उधर जा रहे हो, किधर भी जाओ हर रास्ता गॉड के पास ह जाता है – कभी हां कभी ना

9. रिस्की इज लाइक विस्की, उसका मजा वही जानता है जिसने इसे टेस्ट किया है – जैकपॉट

10. आइने के पास तो कुछ भी नहीं, मेरी आंखों में तेरी तस्वीर है – उमराव जान

11. सात मुकाम होते हैं इश्क में : दिलकशी, हुस्न, मोहब्बत, अक़ीकत, इबादत, जुनून और मौत – डेढ़ इश्किया

12. पाप से धरती फटती है, अधर्म से आसमान, अत्याचार से कांपी इंसानियत, राज कर रहे हैवान. जिनकी होगी ताकत अपूर्व, जिनका होगा निशाना अभेड़, जो करेगा इनका सर्वनाश, वो कहलाएंगे त्रिदेव – त्रिदेव

13. जिसने अपने काम में जीना सीख लिया, उसे कभी कोई कमी नहीं होती – 7 खून माफ

14. तुम्हारे और मौत के बीच मेरी पिस्टल से निकली सिर्फ एक गोली का फासला रह गया है – विश्वात्मा

15. मर्द को आबाद भी औरत करती है और बर्बाद भी औरत ही करती है – मोहरा

16. बहुत औरतें देखीं जिनके लिए जान दी जा सकती है, पहली बार एक ऐसी औरत देखी जिसके जान ली जा सकती है – टक्कर

17. जब इंसान जुर्म के खिलाफ आवाज उठाता है तो दुनिया उसे बाग़ी कर देती है – त्रिदेव

18. दुनिया में सबसे गहरी दुश्मनी मियां-बीवी की होती है – इश्किया

19. हम सभी इस दुनिया में एक खास काम करने के लिए ही भेजे गए हैं – इक़बाल

20. हाथ में बंदूक लेकर अपने आपको बहादुर समझना उतना ही आसान है, जितना किसी निहत्थे को बुज्दिल समझना – चाइना गेट

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

error: Content is protected !!