PM मोदी का वार ‘जिस सरकार ने आपका वेलफेयर नहीं किया, उसका फेयरवेल कर दो’

पीएम मोदी इन दिनों कर्नाटक दौरे पर हैं। यहां पीएम मोदी एक के बाद एक ताबड़तोड़ रैलियां करते हुए नजर आ रहे हैं। पीएम मोदी अपनी जनसभाओं में कर्नाटक की कांग्रेस सरकार को आड़े हाथों लेते हुए नजर आ रहे हैं। बीजेपी की तरफ से मोर्चा संभालते हुए पीएम मोदी चुनावी माहौल में थोड़ी भी कसर नहीं छोड़ना चाहते हैं, जिसकी वजह से पीएम मोदी कर्नाटक कांग्रेस सरकार और राष्ट्रीय स्तर पर भी कांग्रेस पर आरोप लगाते हुए नजर आ रहे हैं। तो चलिए जानते हैं कि हमारे इस रिपोर्ट में क्या खास है?

कांग्रेस पार्टी पर आरोप लगाते हुए पीएम मोदी ने कहा कि जिस सरकार ने आपका अच्छा नहीं किया है, उसकी बिदाई करने का समय आ चुका है। जी हां, पीएम मोदी ने कहा कि अब समय आ गया है कि कर्नाटक तो स्वस्थ और सुरक्षित बनाया जाए ताकि कर्नाटक का विकास नंबर वन हो सके। कर्नाटक की कांग्रेस सरकार पर वार करते हुए पीएम मोदी ने इस पहले भी कहा था  कि कर्नाटक कांग्रेस का आखिरी किला है, ऐसे में इस किले को उखाड़ फेंकना है। मोदी जी बार बार यह कहते हुए नजर आते हैं कि कर्नाटक में कांग्रेस ने कुछ काम नहीं किया है, ऐसे में जनता अब कांग्रेस की बिदाई करेगी।

किसानों के मुद्दे पर बात करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि येदियुरप्पा के सीएम बनने के बाद जो योजनाएं थीं, उन्हें कांग्रेस सरकार ने बंद कर दिया, ऐसे में अगर येदियुरप्पा की सरकार बनी तो उन योजनाओं को फिर से शुरू किया जाएगा, ताकि किसानों को फायदा हो सके, किसानों को पर्याप्त मात्रा में पानी मिल सके, इसके लिए बीजेपी हमेशा तत्पर रहेगी। पीएम मोदी चुनावी प्रचार में अक्सर यह कहते हुए नजर आते हैं कि केंद्र में बीजेपी की सरकार है, ऐसे में अगर सूबे में भी बीजेपी की सरकार होगी तो कर्नाटक को दोगुना फायदा होगा।

पीएम मोदी ने कांग्रेसियों पर बड़ा वार करते हुए बोले कि कांग्रेसी पानी के पैसे चबा गए, आदिवासियों के हॉस्टल में उनके बिस्तर के पैसे भी मार गए। साथ ही पीएम मोदी ने यह भी कहा कि कांग्रेस पापाचार की पार्टी है, यहां सिर्फ पाप ही होते हैं, विकास के नाम पर जीरो है। जनता को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि केंद्र सरकार से जो भी पैसा आता है, उसे कांग्रेस खा जाती है, ऐसे में अब सिर्फ बीजेपी को सत्ता में लाइये और कांग्रेस को यहां से भगाईये उन्हें अब फेयरवल की जरूरत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.