विशेष

जाम टॉयलेट को ठीक करने के लिए बुलाया था प्लंबर, जब पाइप खुली तो नज़ारा देखकर उड़ गए सबके होश

यह दुनिया बहुत बड़ी है, यह किसी को बताने की ज़रूरत नहीं है। इस दुनिया में कभी-कभी कुछ ऐसी चीज़ें भी होती हैं, जिन्हें देखकर ख़ुद की आँखों पर यक़ीन नहीं होता है। यह सभी लोग जानते हैं कि समाज पहले की अपेक्षा काफ़ी बदल गया है। आज पहले से ज़्यादा समाज में अपराध होने लगे हैं। आजकल के अपराधी काफ़ी शातिर भी हो गए हैं। इनमें से कुछ अपराधी इतने ज़्यादा शातिर हैं कि अपना अपराध छुपाने के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं। हाल ही में एक ऐसी घटना सामने आयी है, जिसे जानने के बाद आपके होश उड़ जाएँगे।

घटना के बारे में जानने से पहले हम आपको पहले यह बताएँगे कि यह घटना सामने कैसे आयी। आजकल हर जगह स्वच्छता की दृष्टि से टॉयलेट बनाए जा रहे हैं। आप भी इसका इस्तेमाल करते होंगे। आपने देखा होगा कि कभी-कभी टॉयलेट का पाइप जाम भी हो जाता है। ऐसी अवस्था में आपको प्लंबर बुलाना पड़ता है। क्योंकि एक प्लंबर ही होता है जो टॉयलेट की जाम पाइप को सही कर सकता है। हम जिस घटना के बारे में बताने जा रहे हैं, वह भी एक प्लंबर की वजह से ही सामने आयी है।

:

आपकी जानकारी के लिए बता दें हाल ही में केरल के पलक्कड़ में एक डॉक्टर के घर के टॉयलेट से 2 दिन की बच्ची का शव मिला है। इस घटना के बाद से पूरे इलाक़े में सनसनी फैल गयी है। इस मामले का ख़ुलासा उस समय हुआ जब डॉक्टर के घर का टॉयलेट जाम हो गया था। जाम टॉयलेट को ठीक करवाने के लिए डॉक्टर ने एक प्लंबर बुलाया था। प्लंबर ने डॉक्टर के घर टॉयलेट की जाम पाइप को ठीक करने के लिए जैसे ही पाइप को खोला और साफ़ किया तो उसे बच्ची का शव दिखा।

बच्ची का शव देखते ही प्लंबर ने डॉक्टर को बताया और डॉक्टर ने तुरंत इसकी सूचना पुलिस को दे दी। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार पलक्कड़ के डॉक्टर अब्दुल रहमान और उनकी पत्नी पोरिंथामन्ना अपने ही घर में एक क्लीनिक चलाते हैं। क्लीनिक की साफ़-सफ़ाई के दौरान घर की मेड ने देखा कि क्लीनिक के टॉयलेट का कमोड जाम हो गया है। कमोड में पूरा पानी भर गया है और वह ख़त्म भी नहीं हो रहा है। यह देखने के बाद मेड ने तुरंत इसकी जानकारी डॉक्टर को दी। डॉक्टर ने जाम टॉयलेट को ठीक करवाने के लिए प्लंबर को बुलाया।

जब प्लंबर टॉयलेट की सफ़ाई कर रहा था, तभी उसे पता चला कि एक नवजात बच्ची का सिर कमोड की पाइप में फँसा हुआ है। इसके बाद तुरंत इसके बारे में पुलिस को बताया गया। पुलिस ने अपने शुरुआती जाँच में कहा कि ऐसा लग रहा है कि डॉक्टर की क्लीनिक में आने वाली किसी महिला ने अपने नवजात बच्चे को फ़्लश किया होगा। हालाँकि इस मामले की जाँच की जा रही है। इस मामले की जड़ तक जाने के लिए पुलिस डॉक्टर से भी पूछताछ कर रही है। पुलिस ने डॉक्टर से पिछले दिनों में आए सभी मरीज़ों के बारे में पूछताछ की। उनमें से कितनी महिलाओं की प्रेगनेंसी डेट नज़दीक थी, इसकी भी जानकारी ली।

Show More

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

Back to top button
Close