‘मेडिटेशन’ करने के इन 5 फायदों जानकर आप भी हैरान रह जाएंगे, पढें पूरी ख़बर!

आज के समय में युवा पीढ़ी अपने काम काजों में काफी व्यस्त हो चुकी है. ऐसे में हर कोई स्ट्रेस और डिप्रेशन जैसी बीमारियों से घिरा हुआ है. अपनी मानसिक स्तिथि को कंट्रोल में रखने के लिए बहुत से लोग मैडिटेशन यानी ध्यान लगाने का प्रयास करते हैं. आपकी जानकारी के लिए हम आपको बता दें कि मैडिटेशन एक ऐसी मानसिक अवस्था है, जिसके द्वारा कोई भी इंसान अपने मन और दिमाग को एकाग्रिचित कर सकता है. रोजाना ध्यान लगाने से हम अपने गुस्से, प्यार, नफ़रत, परेशानियों आदि में राहत महसूस कर सकते हैं और अशांत मन को शांत कर सकते हैं.  मैडिटेशन करने का कोई नुक्सान नहीं है बल्कि ध्यान लगाने से आपको केवल लाभ ही लाभ प्राप्त हो सकते हैं. साइंस द्वारा की गई एक रिसर्च ने यह बात साबित कर दी है कि मैडिटेशन यानी ध्यान लगाने वाले व्यक्ति मे नॉर्मल व्यक्ति से ज्यादा दिमाग होता है. आज के इस आर्टिकल में हम आपको मैडिटेशन के कुछ ऐसे फायदों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनसे आप पहले से शायद वाकिफ नहीं होंगे.

ये हैं मैडिटेशन करने के फ़ायदे

स्टूडेंट के लिए मैडिटेशन के  फायदे-

मेडिटेशन से आपके अवचेतन दिमाग पर तेजी से प्रभाव पड़ता है. जो स्टूडेंट मेडिटेशन करते है, उनकी किसी भी कार्य को करने की क्षमता पहले से अधिक बढ़ जाती है और साथ ही उनके आत्मविश्वास मे वृद्धि होती है. मैडिटेशन विद्यार्थियों को पढाई में ध्यान लगाने में मदद करता है और उनके याद रखने की शक्ति मे बढ़ोतरी करता है.  कुल मिला कर यह मान लीजिए कि मैडिटेशन द्वारा हम अपना मन एक जगह एकाग्रिचित कर सकते हैं.

मैडिटेशन के स्वास्थ्य से संबंधित फायदे-

अगर कोई व्यक्ति (ब्लूड प्रेशर) उच्च रक्त चाप से से पीड़ित है तो उसे मेडिटेशन जरूर करना चाहिए. क्योकि मेडिटेशन आपके रक्त के प्रवाह को नियंत्रित करता है. मेडिटेशन से (श्वास ) सांस से संबंधित बीमारिया भी दूर होती है. इसलिए जिस व्यक्ति को साँस लेने मे दिक्कत होती है उसे मेडिटेशन जरूर करना चाहिए. इसके इलावा मेडिटेशन से आपकी मानसिक ओर शारीरिक थकान कम होती है जिससे हम शरीर में  नई ऊर्जा का अनुभव करने लगते हैं.

 दिमाग से संबंधित फायदे-

मेडिटेशन हमारे दिमाग की शक्ति को तेज कर देता है जिससे कि हम किसी भी कार्य को क्रिएटिव तरीके से कर पाते हैं. साथ ही यह मेडिटेशन हमारे गुस्से को नियंत्रित करता है और आपकी परेशानियो को छोटा कर देता है. ध्यान लगाना हमारी इन्द्रियों को नियंत्रित करता है. जिससे हम मुश्किल से मुश्किल कामों को भी आसानी से करने के योग्य बन जाते हैं.

आंतरिक फायदे-

मेडिटेशन हमे ब्रमाण्ड से जोड़ता है. जिससे हम  खुद के बारे मे अच्छे से जान पाते हैं कि हमारे में  कौनसी खूबी है और कौनसी खामी. अगर हम खुद के बारे मे जाननासीख जाएँ  तो हम दुनिया मे कुछ भी आसानी से हासिल कर सकते हैं और  ये सब कुछ केवल मैडिटेशन से  ही संभव है.

भावनात्मक फायदे-

मेडिटेशन हमारी भावनायों यानी फीलिंग्स पर काबू रखता  है. इससे हम दूसरों के सुख दुःख आसानी से समझ सकते हैं और उनके साथ हर मुश्किल में खड़े रह कर  उनका साथ देते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.