इस अक्षय तृतीया पर घर लाएं यह 6 चीज़ें, मां लक्ष्मी करेंगी कृपा

पुराणों में माता लक्ष्मी की उत्पत्ति के बारे में विरोधाभास पाया जाता है। एक कथा अनुसार माता लक्ष्मी की उत्पत्ति समुद्र मंथन के निकले रत्नों के साथ हुई थी लेकिन दूसरी कथाएं कुछ और ही कहती है जिसके मुताबिक माता लक्ष्मी भगवान विष्णु की पत्नी है माता लक्ष्मी। दरअसल, पुराणों की कथा में छुपे रहस्य को जानना थोड़ा मुश्किल होता है। इसे समझना जरूरी है। आपकी जानकारी के अनुसार बता दें कि शिवपुराण अनुसार ब्रह्मा, विष्णु और महेश के माता पिता का नाम सदाशिव और दुर्गा बताया गया है। उसी तरह तीनों देवियों के भी माता पिता रहे हैं। अर्थात किसी की भी उत्पत्ति असाधारण नहीं थी। लेकिन पुराणों में उनकी उत्पत्ति और उनके शक्ति को अलंकारिक तरीके से प्रस्तुत किया गया।

जैसा कि आप सभी जानते हैं अक्षय तृतीया का अचूक सावा है। जो आने को तो हर साल आता है लेकिन बहुत ही शुभदायक और फलदायक होता है। वैसे तो आज के समय में धन सब को ही प्रिय है सब ही धन की मनोकामना में देवी देवताओं की पूजन बंधन में लगे रहते हैं। ऐसे ही शास्त्रों के अनुसार कहा जाता है कि जीवन में सुख समृद्धि और धन पाने के लिए यदि माता लक्ष्मी को प्रसन्न कर दिया जाए तो तुम उस इंसान पर माता लक्ष्मी इस तरह से टूट पड़ती है कि वह कभी दरिद्रता का मुख तक नहीं देखता है।

कहते हैं अक्षय तृतीया वाले दिन यदि माता लक्ष्मी की पूजा परिपूर्ण तरीके से विधिवत पूर्वक की जाए तो माता लक्ष्मी बेहद प्रसन्न होती हैं और उस घर में धन-धान्य से भरपूर बना रहता है। आज हम आपको ऐसा ही कुछ उपाय बताने वाले हैं जिसको अक्षय तृतीया पर अपनाने से आपके जीवन में धन धान्य व खुशहाली अवश्य आएगी। माता लक्ष्मी की पूजा से प्रसन्न होकर आप को आजीवन धन धान्य से परिपूर्ण अवश्य करेंगे तो आइए जानते हैं क्या है वे उपाय…

अक्षय तृतीया पर ऐसा कहा गया है कि सोना चांदी खरीदना और घर में लाना भी बहुत शुभ माना जाता है और सोना चांदी माता लक्ष्मी को भी बहुत प्रिय है। ऐसे में यदि आप सोने या चांदी से बनी लक्ष्मी माता की पादुकाएं घर में लाकर नियमित रूप से पूजन करें तो आपके जीवन में सफलता प्राप्त होने के योग बन सकते हैं।

कौड़ी रूपी वस्तुएं माता लक्ष्मी के लिए बहुत प्रिय है इसलिए यदि नियमित रूप से हल्दी और केसर के साथ माता लक्ष्मी की नियमित रूप से पूजन वंदन किया जाए तो आपके जीवन पर शुभ प्रभाव पड़ने की पूरी आशंका होती है।

एकाक्षी नारियल को लक्ष्मी माता का स्वरूप माना जाता है इसलिए वह माता को बहुत प्रिय है। अक्षय तृतीया पर एकाक्षी नारियल माता पर चढ़ाने से आपकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं।

अक्षय तृतीया की शुभ तिथि पर घर में पारद की देवी को लाना बहुत शुभ माना जाता है। ऐसा माना जाता है कि वह लक्ष्मी स्वरूप होती हैं और घर में उनके आगमन से धन का अभाव नहीं रहता है।

श्री यंत्र, स्फटिक यंत्र और कछुआ मां लक्ष्मी को बहुत प्रिय हैं। महालक्ष्मी जहां पर वास करती हैं वहां पर इन वस्तुओं का होना बेहद जरूरी होता है इसलिए माता लक्ष्मी आगमन के लिए इन सब चीजों का घर में होना बेहद शुभ माना जाता है। इन सबको घर में रखने से आर्थिक स्थिति में बेहद सुधार आता है।

दक्षिणावर्ती शंख माता लक्ष्मी को सबसे प्रिय वस्तुओं के रूप में मानी जाती है इसको अक्षय तृतीया के दिन घर में लाने पर धन की बढ़ोतरी होती है और आर्थिक स्थिति में सुधार आता है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.