पीएम मोदी का बड़ा बयान ‘SC/ST एक्ट में नहीं होगा कोई बदलाव, मजबूत बनाया कानून’

दलित विरोधी की छवि सुधारने के लिए इन दिनों बीजेपी नेता एक से बढ़कर एक काम करते हुए नजर आ रहे हैं। जी हां, एक तरफ विपक्ष सरकार पर दलित विरोधी का आरोप लगाती है, तो वहीं दूसरी तरफ सरकार अब अपनी इस छवि को साफ करती हुई नजर आ रही है। सरकार एक बार फिर से सबका साथ सबका विकास का नारा देती हुई नजर आ रही है। ऐसे में अब पीएम मोदी ने एससी एसटी एक्ट को लेकर बड़ा बयान दिया है, जिसकी वजह से बीजेपी की दलित विरोधी छवि भी सुधर जाएगी। तो चलिए जानते हैं कि हमारे इस रिपोर्ट में क्या खास है?

एससी एसटी एक्ट में बदलाव होने की वजह से पूरे देश में आंदोलन हुआ था, जिसकी वजह से विपक्ष और सरकार एक बार फिर से आमने सामने आ चुकी है। जहां विपक्ष इसे सरकार के खिलाफ हथियार के रूप में अपनाती नजर आ रही है, तो वहीं दूसरी तरफ अब सरकार इसी हथियार से विपक्ष को मात देने के फिराक में है। जी हां, लोगों को यह यकीन दिलाया जा रहा है कि बीजेपी न तो दलित विरोधी है और न ही गरीब, वो तो सबका साथ सबका विकास चाहती है। ऐसे में इसको लेकर एक के बाद एक बड़े नेता इस पर अपनी बात रख रहे हैं।

पीएम मोदी ने एससी एसटी एक्ट पर बोले कि इस कानून में कोई भी बदलाव नहीं किया जाएगा। बता दें कि यह मामला अभी कोर्ट में  है, जिसकी वजह से सारा फैसला कोर्ट पर निर्भर करता है, लेकिन पीएम मोदी ने यह बयान दिया है कि सरकार इस मामले में किसी भी तरीका का कोई बदलाव नहीं करेगी, जिससे लोगों को नुकसान हो। साथ ही पीएम मोदी ने यह भी कहा कि इस कानून को और भी ज्यादा मजबूत बनाया गया है, ऐसे में लोगों को इसकी चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है।

कांग्रेस पार्टी पर हमला बोलते हुए पीएम मोदी  ने कहा कि 2 अप्रैल के आंदोलन के लिए कांग्रेस जिम्मेदार है, क्योंकि उसने पूरे देश में यह फैलाया कि बीजेपी इस कानून में बदलाव कर रही है, जोकि सरासर गलत है। गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट द्वारा इस एक्ट के तहत तत्काल गिरफ्तारी पर रोक लगा दिया है, जिसकी वजह से देश भर में जमकर हिंसा हुई थी, ऐसे में अब एक बार फिर से यह मामला कोर्ट में जा पहुंचा है, जहां अब केंद्र सरकार की याचिका पर फिर से सुनवाई होगी,  उसके बाद ही कोई फैसला लिया जाएगा, लेकिन सरकार ने भरोसा दिलाया है कि वो किसी भी तरह का कोई बदलाव नहीं होने देगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.