बहुत भाग्यशाली लोगों को मिलती हैं इन 4 गुणों वाली पत्नियां, देखिए कहीं वो आप तो नहीं…

आज के जमाने की तरह, प्राचीन भारतीय लोग भी एक दुसरे से जुड़े हुए थे। उन्होंने ने भी तर्कसंगत प्रश्नों का जवाब देने और मानव जाति की जानने की इच्छा को शांत करने के लिए ज्ञान और सूचना को एक दूसरे के साथ शेयर किया। हालांकि, कुछ लोग आज भी प्राचीन मान्यताओं की प्रामाणिकता और विश्वसनीयता पर बहस करते हैं, लेकिन इसका अस्तित्व मौजूद होना इन सारी बहस पर विराम लगा देता है। ऐसी ही एक बात प्राचीन हिन्दु धर्म ग्रथों में भी बताया गया है। कई हिन्दु धर्म ग्रंथों में एक अच्छी पत्नी की खूबियाँ बताई गई हैं। बताया है कि 4 गुणों वाली पत्नी बेहद भाग्यशाली होती हैं। अगर किसी स्त्री में ये 4 गुण हो तो वह अपने पति के लिए भाग्यशाली साबित होती है।

4 गुणों वाली पत्नी बेहद भाग्यशाली होती है

महाभारत में भीष्म पितामह ने ये बात कही थी कि महिला को हमेशा खुश रहना चाहिए, क्योंकि इससे घर की तरक्की और वंशवृद्धि होती है। भीष्म पितामह ने बताया था कि अगर पत्नी खुश रहती है तो घर में बरकत होती है। अगर ऐसा न हो तो गरीबी आ जाती है। भीष्म पितामगह के अलावा कई धार्मिक ग्रंथो में पत्नी के गुणों और अवगुणों को बताया गया है। आज हम आपको एक आदर्श पत्नी के वो 4 गुण बताने जा रहे हैं जो किसी पत्नी में हो वो वह अपने पति के लिए बेहद भाग्यशाली होती है। इन 4 गुणों वाली पत्नी बेहद भाग्यशाली होती है।

गरुण पुराण में पत्नी के गुणों का वर्णन एक श्लोक के माध्यम से किया गया है। जो इस प्रकार है –

‘सा भार्या या गृहे दक्षा सा भार्या या प्रियंवदा। सा भार्या या पतिप्राणा सा भार्या या पतिव्रता।।’

इस श्लोक के अर्थ में ही ये बात पता चलती है कि किसी पत्नी में कौन कौन से 4 गुण होने चाहिए।

गृहे दक्षा

यदि पत्नी भोजन बनाने, साफ-सफाई, घर की सजावट, कपड़े-बर्तनों आदि की सफाई, बच्चों की जिम्मेदारी संभालने, अतिथियों का मान-सम्मान करने, कम संसाधनों में ही गृहस्थी चलाने आदि घरेलू कार्यों में दक्ष हो तो, ऐसी पत्नी अपने पति व उसके परिवार के लिए भाग्यशाली साबित होती है। ऐसे घर में मां लक्ष्मी का वास होता है।

प्रियंवदा

ऐसी पत्नी जो अपने पति के अलावा उसके परिवार के सभी सदस्यों से प्यार से बात करती या वो पत्नी जो सभी से मधुर बोलती है, सदैव और बड़ों से संयमित भाषा में बात करती है बेहद भाग्यशाली होती है।

पतिप्राणा

ऐसी पत्नी जो पति की बातों को सुने और उन्हें माने। ऐसी पत्नी जो कभी अपने पति व उसके परिवार के सामने कोई बूरी बात न करे वो बेहद भाग्यशाली होती है। ऐसी पत्नी के लिए पति भी कुछ भी करने के लिए तैयार रहते हैं।

पतिव्रता

एक पत्नी के लिए पवित्र होना सबसे बड़ा गुण है। अगर पत्नी किसी पराये मर्द का विचार भी अपने मन में नहीं लाती तो ऐसी पत्नी बेहद भाग्यशाली होती है। गरुड़ पुराण में बताया गया है कि ऐसी पत्नियां पति के लिए भाग्यशाली साबित होती हैं। अगर ये 4 गुण किसी पत्नी में हो तो वह हमेशा ही पति और परिवार के लिए बहुत भाग्यशाली साबित होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.