ये हैं अमेरिका की ‘चाय वाली’, अमेरिकीयों को पिलाती हैं देसी हिन्दुस्तानी चाय

नई दिल्ली – हमारे यहां लोगों को सुबह सुबह सबसे पहले चाय पीना पसंद है। सुबह ही क्यों कुछ लोग तो सुबह दोपहर और शाम को भी चाय पीना पसंद करते हैं। भारत के लोगों की आदत ऐसी होती है कि बिना चाय के वह एक कदम चल भी नहीं सकते। लेकिन, क्या आप ये सोच सकते हैं कि आपको 5 या 10 रुपए में चाय बेचकर कोई चायवाला करोड़पति बन सकता है।  नहीं ना? पांच-दस रुपये की चाय से पेट पाल जा सकता है, लेकिन लखपति या करोड़पति नहीं बन सकता।

लेकिन, हाल ही में कुछ ऐसे लोग सामने आये हैं जिनका चाय का बिजनेस खुब फला फुला और वो चाय बेचकर न सिर्फ लाखपति हुए हैं, बल्कि सुख-सुविधा की जिंदगी जी रहे हैं। अब ऐसी ही एक अमेरिकी महिला इन दिनों खबरो में है जो करोड़पति बन गई है। जा हीं, भारत की चाय अमेरिका में बेचकर ये महिला करोड़पति बन गई है।

भारत की चाय अमेरिका में बेचकर ये महिला करोड़पति बनी

अगर कोई भारतीय चाय बेचकर लाखपति हो जाए तो उसमें अब उतनी हैरानी नहीं होती। लेकिन, क्या आप सोच सकते हैं कि कोई विदेशी भारत की देसी चाय बेचकर करोड़पति बन गया। दरअसल, भारत की चाय अमेरिका में बेचकर ये महिला करोड़पति बन गई है। हैरानी की बात तो ये है कि ये महिला भारतीय नहीं बल्कि विदेशी है।

यह महिला अमेरिका की रहने वाली है जो भारती की देसी चाय अमेरिका में बेचकर करोड़पति बन गई है। हमारे देश में चाय पीने वालों की संख्या इतनी अधिक है कि इसे सरकार को देश का राष्ट्रीय पेय घोषित कर देना चाहिए। लेकिन, यह वाकई में हैरान करने वाली बात है कि हिंदुस्तान की देसी चाय को सड़कों पर बेचकर कोई अमेरिकी महिला अरबपति भी बन सकती है। तो आइये आपको पूरा मामला क्या है बताते हैं।

क्या है पूरा मामला

यह कारनामा करने वाली महिला का नाम ब्रूक एडी है। एडी अमेरिका की रहने वाली हैं। एडी भारत की देसी चाय अमेरिका में बेचकर 35 मिलियन डॉलर यानी 227 करोड़ की मालकिन बन चुकी हैं। एडी के मुताबिक, वो एक बार भारत आई थी और उन्हें चाय बेचने का यह आइडिया भारत से ही मिला। वो साल 2002 में भारत आई थीं। साल 2002 में भारत घुमने आई ब्रूक ने पहली बार हिन्दुस्तानी चाय का स्वाद चखा। इसके बाद वो जिस भी देश गई वहां ऐसी चाय ढूंढती रहीं। लेकिन, उन्हें कहीं भी चाय का ऐसा स्वाद नहीं मिला।

कोलोराडो पहुंचकर भी उन्होंने कई जगह भारत जैसी चाय ढूंढी लेकिन नहीं मिली। इसके बाद वो भारत की चाय खरीदकर अपने घर में बनाने लगीं। कुछ दिनों बाद उन्हें बिजनेस का आइडिया आया। एडी को लगा की जब ये चाय उन्हें इतनी अधिक पसंद आ सकती हैं तो बाकी लोगों को भी जरुर आयेगी। इसलिए, साल 2006 में उन्होंने अपनी कार में चाय बेचना शुरू कर दिया। अमेरिका के लोग तुरंत ही एडी के चाय के दीवाने हो गये और उनकी जबरदस्त फैन फॉलोइंग बढ़ गई। धीरे धीरे उनका बिजनेस बढ़ता गया और अब वो करोड़पति बन चुकी हैं।