पेपर लीक मामले में छात्रों का प्रदर्शन, प्रकाश जावड़ेकर के घर के बाहर धारा 144 लागू

सीबीएसई पेपर लीक का मामला अब बढ़ता हुआ नजर आ रहा है। जी हां, जहां एक तरह सीबीएसई इस मामलें में जांच पड़ताल कर रही है तो वहीं दूसरी तरफ छात्रों का गुस्सा सीबीएसई बोर्ड पे फुट रहा है, क्योंकि उन्हें बिना किसी गलती के दोबारा परीक्षा देनी पड़ेगी, हालांकि ये परीक्षा कब होगी, इसकी जानकारी नहीं है। तो चलिये अब जानते हैं कि हमारे इस रिपोर्ट में क्या कुछ खास है?


सीबीएसई ने दसवीं की गणित और बारहवीं की अर्थशास्त्र का पेपर दोबारा से करवाने का फैसला किया तो छात्रों का गुस्सा फूट गया। जी हां, छात्रों का कहना है कि या सीबीएसई पूरे पेपर दोबारा कराये या फिर एक भी नहीं, क्योंकि उन्हें आगे की पढ़ाई के लिए तैयारी करनी है। ऐसे में छात्रों में इस बात का भी आक्रोश देखने को मिल रहा है कि सीबीएसई पेपर लीक की खबरों को हल्के में ले रहा था, जिसकी वजह से आज यह दिन देखना पड़ा। ऐसे में अब छात्र सीबीएसई बोर्ड और प्रकाश जावड़ेकर के घर के पास प्रदर्शन कर रहे हैं।


छात्रों के आक्रोश को देखते हुए शिक्षा मंत्री प्रकाश जावड़ेकर के घर के पास धारा 144 लागू कर दी गयी है। ताकि सुरक्षा व्यवस्था बरकरार है। बता दें कि अभी तक इस मामलें में पुलिस सिर्फ कई लोगों से पूछताछ कर पाई है, तो वहीं विक्की नाम के शख्स को अरेस्ट भी किया है, लेकिन इस पेपर लीक कांड का मास्टरमाइंड कौन है? इसको लेकर अभी तक प्रशासन के हाथ खाली है, ऐसे में आज नहीं तो कल मास्टरमाइंड पकड़े ही जायेंगे लेकिन सवाल उन बच्चो का है, जो बिना किसी गलती के सजा भुगत रहे हैं।

मामलें की गम्भीरता को देखते हुए शिक्षा मंत्री ने बच्चों को धैर्य रखने की बात कही है। इसके साथ मंत्री ने ये भी कहा है कि अब परीक्षाओं को लेकर कड़ी बंदोबस्त किया जाएगा, ताकि भविष्य में इस तरह की घटनाएं न हो। हालांकि, यह कोई पहली बार नहीं हुआ है, जब पेपर लीक हुआ हो। इससे पहले एसएससी पेपर लीक मामलें में भी देश का युवा सड़को पे भटकने के लिए मजबूर हुए, लेकिन सरकार की तरफ से सिर्फ उसे दिलासा ही मिला।
खबरों की माने तो मास्टरमाइंड ने सीबीएसई को पेपर लीक की चुनौती भी दी थी, इसके बावजूद सीबीएसई हाथ पे हाथ धरे बैठा रहा, जिसको लेकर छात्रों और अभिभावकों में आक्रोश का माहौल है। याद दिला दें कि सीबीएसई बोर्ड ने पहले पेपर लीक की खबरों को खारिज कर दिया था, लेकिन जब मामला बढ़ने लगा तो उसने बड़ा फैसला लेते हुए परीक्षा को दोबारा कराने की बात कही।

Leave a Reply

Your email address will not be published.