ब्रेकिंग न्यूज़

APP का बड़ा आरोप ‘चुनाव आयोग बीजेपी के इशारों पर करता है काम’

एक तरफ कर्नाटक चुनाव की डेट का ऐलान हुआ तो दूसरी तरफ विवाद भी बढ़ गया। जी हां, चुनाव आयोग से पहले बीजेपी आईटी सेल द्वारा तारीख का ऐलान कर देने से विवाद बढ़ता ही जा रहा है। बताते चलें कि एक तरफ चुनाव आयोग प्रेस कान्फ्रेस करके डेट का ऐलान करने वाला था, तो वहीं दूसरी तरफ बीजेपी के आईटी सेल ने बीजेपी की मुश्किले बढ़ा दी। हालाकि, बीजेपी ने चुनाव आयोग से माफी जरूर मांगी हैं, लेकिन इसकी जांच होगी। आइये जानते हैं कि हमारे इस रिपोर्ट में क्या खास है?

डेट लीक मामले में कांग्रेस ने बीजेपी पर बड़ा आरोप लगाया तो वहीं दूसरी तरफ इस मामले में अब आम आदमी पार्टी भी कूद चुकी है। ऐसे में मामले में आम आदमी पार्टी ने चुनाव आयोग पर बड़ा आरोप लगाया है। आपको बता दें कि चुनाव आयोग से पहले बीजेपी आईटी सेल अमित मालयवी ने ट्वीट करके चुनाव की डेट की घोषणा कर दी थी, जिसके बाद से ही विपक्ष इसे  चुनाव आयोग की मिलीभगत बता रहा है।

बताते चलें कि डेट लीक मामले में कांग्रेस ने बीजेपी पर आरोप लगाते हुए पूछा कि आखिर चुनाव आयोग से पहले इन्हें डेट कैसे पता थी, क्या ये डेट लीक का मामला है? ऐसे में जब विवाद बढ़ा तो चुनाव आयोग ने मामले की जांच करने का दिलासा दिलाया तो वही अब इस मामले में केजरीवाल की पार्टी का बड़ा बयान सामने आया है। आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने चुनाव आयोग पर पक्षपात का आरोप लगाया है।

APP का बड़ा आरोप, चुनाव आयोग नहीं है निष्पक्ष

आम आदमी पार्टी ने चुनाव आयोग पर आरोप लगाते हुए कहा कि मौजूदा दौर में चुनाव आयोग निष्पक्ष नहीं है, वो बीजेपी के इशारों पर काम कर रहा है। दरअसल, आम आदमी पार्टी ने कहा कि चुनाव आयोग से पहले बीजेपी ने चुनाव की डेट को लीक किया, इससे तो यही साफ होता है कि चुनाव की तारीखों का पता बीजेपी को पहले से ही था, और ये जानकारी चुनाव आयोग से ही मिली होगी, जोकि चुनाव आयोग के निष्पक्ष न होने का बड़ा उदाहरण हैं।

इसके साथ ही इस मामले में कड़ी से कड़ी कार्रवाई की मांग करते हुए आम आदमी पार्टी ने कहा कि चुनाव आयोग इस मसले पर कड़ी कार्रवाई करें, वरना 2019 का चुनाव निष्पक्ष नहीं रह जाएगा, बल्कि ये एक तरफा चुनाव कहलाएगा, जोकि चुनाव आयोग पर बड़ा सवाल उठेगा, ऐसे में इससे बचने के लिए दोषियों को सख्त से सख्त से सजा दें।

Related Articles

Close