स्वास्थ्य

इन चीज़ों को खाने से आपका रंग पड़ जाएगा सांवला, आज से ही बंद कर दें खाना!

सांवला बनाने वाले फूड: इंसान गोरे एवं काले या फिर सांवले हो सकते हैं. हालांकि, सांवलेपन में कोई बुराई नहीं है लेकिन फिर भी आज के समय में हर कोई गोरे रंग को ही अहमियत देता है. भले लड़की हो या फिर लड़का, हर कोई गोरा दिखना चाहता है. इससे विपरीत जो लोग काले या सांवले हैं, उनका समाज में मजाक उड़ाया जाता है और उन्हें गोरों की तुलना में कम अहमियत दी जाती है. बेशक गोरा रंग इंसान की पर्सनालिटी और ख़ूबसूरती में चार चाँद लगा देता है लेकिन, काले लोग चेहरे से नही बल्कि दिल से खूबसूरत होते हैं. आपने हिंदी फिल्म का वो मशहूर गाना तो सुना ही होगा, “गोरे रंग पर इतना ना तू गुमान कर, गोरा रंग तो इक दिन ढल जाएगा”.

इससे उल्ट सांवले लोग सच्चे एवं सूझवान किस्म के लोग होते हैं. परन्तु इन सब के बावजूद भी आज की युवा पीढ़ी गोरा दिखने के लिए हर प्रकार के पापड़ बेलती नज़र आती है.

आज के समय में महिलाएं ही नही बल्कि पुरुष भी हर प्रकार की महंगी क्रीम और प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करते हैं ताकि वह अपना सांवलापन दुनिया से छिपा सके. सांवलापन लोगों के लिए एक शर्मिंदगी से बढ़ कर कुछ नहीं है. परन्तु, आपको हम बता दें कि हमारे खाने की आदतें भी हमे सांवलापन दे रही है. जी हाँ, ऐसे बहुत सारे व्यंजन हैं, जिन्हें खाने से हम सांवलेपन को और अधिक बढ़ावा दे रहे हैं. अगर आप भी इनमे से किसी चीज़ का सेवन कर रहे हैं तो आज से ही इन्हें त्याग दें.

सफेद ब्रेड

आज के समय में लोग सुबह के नाश्ते की शुरुआत ब्रेड से करते हैं. हालांकि ब्रेड खाने में कोई बुराई नहीं है परंतु सफेद ब्रेड यानी वाइट ब्रेड को सेहत के लिए अच्छी नहीं माना जाता. दरअसल सफेद ब्रेड एक ऐसी ब्रेड है जिसे खाने से आपके चेहरे का सांवलापन बढ़ने लगता है. वाइट ब्रेड के सेवन से मनुष्य के शरीर में इंसुलिन का स्तर पहले से दुगना हो जाता है और स्किन में मौजूद ऑयल प्रोडक्शन की मात्रा भी बढ़ जाती है. आपको हम बता दें कि वाइट ब्रेड मैदे से बनाई जाती है और इस मैदे वाली ब्रेड में ग्लूटन भारी मात्रा में पाया जाता है. इस ग्लूटेन के कारण ही चेहरे पर दाने निकलने लग जाते हैं जिसे हम पिंपल्स के नाम से जानते हैं.

अगर आप अपने चेहरे की खूबसूरती को बरकरार रखना चाहते हैं तो आज से ही वाइट ब्रेड का सेवन बंद कर दें और इसकी जगह ब्राउन ब्रेड खाना शुरु कर दें.

कॉफी का सेवन

कॉफी आज की युवा पीढ़ी की सबसे पहली पसंद है. जब हम दिनभर ऑफिस और घर के कामकाज से थक जाते हैं तो हमारी थकान मिटाने के लिए कॉफी एक मात्र ऐसी चीज है, जो काफी सहायक सिद्ध होती है. परंतु आपको हम बता दें कि कॉफी में भारी मात्रा में कैफीन मौजूद रहता है जिससे आपकी त्वचा में रूखापन आने लगता है. इसके इलावा कॉफी से आपके चेहरे पर दाने कील मुहासे और झुर्रियां जल्दी पड़ने लगती हैं और आपका चेहरा समय से पहले बुरा लगने लगता है. कॉफी में मौजूद कैफीन स्ट्रेस हार्मोन का स्तर बढ़ा देता है जिसके कारण आपकी स्किन धीरे-धीरे डैमेज होने लगती है और चेहरे पर सांवलापन छाने लगता है. अगर आपको भी कॉफी पीने की लत है तो आज से ही इस लत को त्याग दें और कम से कम यानी दिन में केवल एक ही कप कॉफी पीएं.

चीनी का सेवन

चीनी गन्ने से बनाई जाती है जो कि ना केवल हमारी सेहत बल्कि त्वचा के लिए भी नुकसानदायक सिद्ध होती है. चीनी से डायबिटीज और ब्लड शुगर आदि जैसी बीमारियां बढ़ने लगती हैं जिसके कारण स्किन के टिशू डैमेज हो जाते हैं. इन टिशुज़ के डैमेज होने के कारण ही चेहरे की रंगत काली पड़ने लगती है. इसके इलावा चीनी कोलेजन को नष्ट करती है और त्वचा में शिथिलता ला देती है. अधिक मात्रा में चीनी का सेवन करने से आपकी त्वचा रूखी और बेजान पड़ जाती हैं इसलिए आज से ही चीनी खाना कम कर दें.

Related Articles

Close