स्वास्थ्य

पुरुषों में दिखने वाले ये लक्षण हैं घातक, हो सकते हैं हार्ट अटैक के संकेत

कुछ समय पहले तक हार्ट अटैक और दिल की बीमारियों को उम्र से जोड़कर देखा जाता था और माना जाता था कि हार्ट से सम्बंधी प्रॉब्लम एक उम्र के बाद या आमतौर पर बुजुर्ग लोगों को होते हैं। पर अब ऐसा नहीं रहा.. आजकल बड़ी संख्या में युवा भी इसका असमय शिकार बन रहे हैं जिसका कारण आज की तनाव भरी लाइफ स्टाइल और खान-पान की अनियमितता है। ऐसे में आज के समय में दिल से सम्बंधी रोगों के प्रति सभी को सतर्क रहने की जरूरत है.. खासतौर पर उन युवाओं को जो अधिक स्ट्रेस का काम करते हैं। क्योंकि आजकल कम उम्र के पुरूषों में हार्ट अटैक की समस्या अधिक देखने को मिल रही है। हम आपको कुछ लक्षण बता रहे हैं जिसके जरिए समय रहते इसकी पहचान और रोकथाम की जा सकती है।

दरअसल हमारी शरीर हार्ट अटैक से पहले तमाम तरह के लक्षण प्रदर्शित करता है.. ऐसे में कुछ सावधानी बरतकर इसे घातक होने से बचाया जा सकता है। वैसे इसके लक्षण हर किसी में अलग-अलग दिखाई पड़ते हैं। कुछ लोगों में जहां ये अचानक होता है जबकि कुछ लोगों को शारीरिक चेतावनी देने के बाद दिल का दौरा पड़ता है। तो चलिए जानते हैं पुरुषों में दिखाई पड़ने वाले हार्ट अटैक के कुछ लक्षणों के बारे में जो समय रहते आपको हार्ट अटैक के खतरों से आगाह करते हैं।

पेट की समस्याएं

असल में गैस्ट्रोइंटेस्टिनल ट्रैक्ट की नसें दिल की नसों से जुड़ी होती हैं, ऐसे में दिल में किसी भी तरह की दिक्कत होने पर पेट की समस्याओं के रूप में उसके लक्षण दिखाई दे सकते हैं। जैसे की बार-बार डकार आना, अपच और मितली जैसी समस्याएं दिल की गम्भीर समस्या का संकेत हो सकती है।

सीने में दर्द

हार्ट अटैक का सबसे सामान्य लक्षण है सीने में बार-बार दर्द उठना । ऐसे में अगर आपके सीने के बीचोबीच दर्द उठता है तो यह हार्ट अटैक हो सकता है। वहीं बहुत ज्यादा तनाव में रहने पर भी हार्ट अटैक की संभावना होती है। दरअसल अत्यधिक तनाव की स्थिति में हार्ट-बीट बढ़ जाती है जिससे नसें संकुचित होती हैं और रक्त प्रवाह में बाधा पहुंचती है, जिससे हार्ट अटैक के चांसेज बनते हैं।

सोते वक्त खर्राटा लेना

दरअसल सोते समय पर्याप्त सांस न खींच पाने की स्थिति में खर्राटे आते हैं और ऐसे में ये स्थिति हार्ट अटैक की वजह भी बन सकती है। ऐसे में इसका तुरंत इलाज कराया जाना चाहिए। साथ ही आपकी नींद में अनियमितता, दिल की धड़कन को भी अनियमित बना देता है जिससे हार्ट अटैक का खतरा बढ़ता है।

टहलते वक्त पैरों में दर्द होना

वहीं अगर टहलते समय अगर आपके पैरों या हिप्स में दर्द होता है तो ये भी हार्ट अटैक आने का संकेत हो सकता है। दरअसल धमनियों के संकुचित हो जाने और रक्त प्रवाह बाधित होने की वजह से जोड़ों, पेट और सिर में रक्त कम पहुंचता है और ऐसे में पैरों में रक्त की कमी आने से दर्द की समस्या होती है। इस तरह ऐसे दर्द हार्ट अटैक का संकेत होते हैं, जिसे पहचान कर समय रहते ही व्यक्ति को उचित डॉक्टरी परामर्श लेना चाहिए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close