ये तीन आदतें करती हैं लीवर को ख़राब, आज से ही हो जाईये सावधान

लीवर इंसानी शरीर की सबसे बड़ी ग्रंथि है. यह पेट की पाचन क्रिया के लिए कई प्रकार के रस बनाता है और उनका डिटॉक्सीफिकेशन करता है. इन दिनों यूथ जनरेशन के बिगड़ रहे खानपान के कारण उन्हें कई प्रकार की लीवर से जुड़ी बीमारियां तेजी से जकड़ रही है. अगर किसी व्यक्ति का लीवर खराब हो जाए तो उसको ट्रांसप्लांट करने के इलावा तो इस दूसरा कोई रास्ता नहीं बचता. कई बार सही लीवर ना मिल पाने के कारण मनुष्य की मौत भी हो सकती है. खराब लीवर के कारण कई बार हेपेटाइटस ए, बी, सी और डी जैसे लोग इंसान को कमजोर बना देते हैं.

इसके इलावा खराब लीवर होने के कारण जॉन्डिस और पीलिया जैसी घातक बीमारियां भी हो सकती हैं. दरअसल लीवर मनुष्य शरीर की एक अजब गजब की कलाकृति है. ऐसे में लीवर का ख्याल रखना बहुत जरूरी है. मनुष्य शरीर के ऐसे कई अंग है जिनके खराब होने के बाद कोई भी व्यक्ति जिंदा नहीं रह सकता उन्हीं अंगों में लीवर भी शामिल है. आज के इस आर्टिकल में हम आपको ऐसी तीन आदतों के बारे में बता रहे हैं जिन्हें अपनाने से हम इंसान अपने लीवर को खुद खराब कर रहे हैं.

यह आदतें करती है लीवर को खराब

फास्ट फूड का सेवन:

आज की नई पीढ़ी को हरी सब्जियों से ज्यादा जंक फूड और फास्ट फूड खाने में दिलचस्पी है. भले ही नूडल्स हो, पिज़्ज़ा बर्गर हो या फिर मंचूरियन, यह सभी प्रकार के जंक फूड आज की यूथ जनरेशन के पसंदीदा भोजन बन चुके हैं. अब लोग  सब्जियों से कहीं गुना ज्यादा इन चीजों का सेवन करते हैं. आपको हम बता दें कि इन फूड्स में अधिक मात्रा में तेल एवं मसाले डाले जाते हैं जिनमें कई प्रकार के हानिकारक और विषैले तत्व मौजूद रहते हैं. इन हानिकारक तत्वों की मात्रा शरीर में अधिक बढ़ जाने के कारण इंसानी लीवर धीरे धीरे काम करना बंद कर देता है.

शराब का सेवन:

आज के समय में शराब पीना मानव हाई सोसाइटी का एक फैशन बन गया है. शराब लीवर को फेल करने के लिए सबसे अधिक जिम्मेदार सिद्ध होती है. हालांकि थोड़ी मात्रा में शराब पीना ठीक है मगर ये मात्रा अगर] जरूरत से अधिक बढ़ जाए तो लीवर ठीक तरीके से काम नहीं कर पाता और वह कमजोर पड़ने लगता है. जिसके कारण कुछ ही समय में लीवर फेल हो जाता है. बहुत सारे मनुष्यों का लीवर खराब होने की एक मात्र वजह शराब है जिससे कईं बार चाह कर भी डॉक्टर उनकी जान नहीं बचा पाते.

नींद पूरी ना होना:

डॉक्टर के कहे अनुसार एडल्ट व्यक्ति को 6 से 8 घंटे की नींद लेना उचित है. लेकिन आज की युवा पीढ़ी रात भर मोबाइल और इंटरनेट पर चैटिंग में व्यस्त रहती है जिसके कारण उनकी नींद पूरी नहीं हो पाती. नींद ना पूरी होने का सीधा असर हमारे लीवर पर पड़ता है. इससे हमारा लीवर डैमेज भी हो सकता है. इसलिए अगर आप भी 8 या 6 घंटे से कम सोते हैं तो अभी से सावधान हो जाईये. क्यूंकि आपकी एक छोटी  गलती भी आपके लिए जानलेवा सिद्ध हो सकती है.