आज भी जिंदा है ‘भगवान राम’ के वंशज, खरबों की संपत्ति हैं इनके पास – जानिए पूरा इतिहास

आपको जानकर हैरानी हो सकती है कि भगवान भगवान राम के वंशज आज भी जिंदा हैं। अयोध्या में जन्मे राम का इतिहास हर किसी को मालूम है। लेकिन ये बात शायद ही किसी को मालूम हो कि सदियों बाद भी भगवान राम के वंशज आज भी जिंदा हैं। रामायण के अनुसार, रामजी को अपनी सौतेली मां के वचन के कारण 14 वर्षों का वनवास काटना पड़ा था। 14 वर्षों के वनवास और रावण का वध करने के बाद भगवान राम अयोध्या लौट आये और वहां के राजा बने। लेकिन, इसके बाद की कहानी शायद ही किसी को मालूम हो। इसी बीच एक राज घराने ने खुद को भगवान राम का वंशज होने का दावा किया है।

क्या भगवान राम के वंशज आज भी जिंदा हैं

हमारे देश के राजा अपनी आन-बान और शान के लिए दुनिया भर में प्रसिद्ध हैं। वैसे तो आजादी के बाद राजा और राजघरानों की पंरंपरा लगभग समाप्त हो गई लेकिन उनके वंशज आज भी मौजूद हैं। राजघरानों से ताल्लुक रखने वाले ये वंशज आज भी राजाओं की तरह ही जीवन जीते हैं। हम सभी जानते हैं कि 15 अगस्त 1947 को देश को अंग्रेजों से आजादी मिलते ही राजशाही परंपरा खत्म हो गई थी। लेकिन, इसके बावजूद आज भी देश में कई राज परिवार मौजूद हैं।

महारानी पद्मिनी देवी ने किया राम का वंशज होने का दावा

भगवान राम के वंशज आज भी जिंदा हैं। इसका दावा पिछले दिनों जयपुर की महारानी पद्मिनी देवी ने एक अंग्रेजी चैनल को दिए गए इंटरव्यू में किया है। इस इंटरव्यू के दौरान उन्होंने जो कहा उसकी वजह से काफी चर्चा हो रही है। दरअसल, जयपुर के राजघराना की महारानी पद्मिनी देवी ने एक अंग्रेजी चैनल को दिए इंटरव्यू में कहा कि उनका परिवार भगवान श्रीराम के बेटे कुश के परिवार का वंशज हैं। रानी पद्यिनी के मुताबिक, उनके पति भवानी सिंह कुश के 309 वें वंशज थे।

क्या है इस राजघराने का इतिहास

इस राजघराने के इतिहास की बात करें तो 21 अगस्त 1912 को जन्मे महाराजा मानसिंह ने तीन शादियां की थी। मानसिंह की पहली पत्नी का नाम मरुधर कंवर, दूसरी पत्नी का नाम मरुधर कंवर यानि अपनी पहली पत्नी की भतीजी किशोर कंवर था। मानसिंह ने तीसरी शादी गायत्री देवी से की थी। महाराजा मानसिंह और उनकी पहली पत्नी मरुधर कंवर के बेटे का नाम भवानी सिंह था। भवानी सिंह की शादी राजकुमारी पद्मिनी से हुई थी। महारानी पद्यिनी ने ही ये दावा किया है कि उनका परिवार भगवान राम का वंशज है।

खरबों की संपत्ति का मालिक है ये राजघराना

यह राजघराना खरबों की संपत्ति का मालिक है। लेकिन, महाराजा भवानी सिंह और उनकी पत्नी पद्मिनी का कोई बेटा नहीं है। दोनों से एक बेटी है जिसका नाम दीया है। दीया का विवाह नरेंद्र सिंह के साथ हुआ है और दीया बीजेपी की नेता हैं। दीया का कोई भाई और इस राज घराने का कोई वारिस न होने के कारण महाराजा भवानी सिंह ने दीया की बेटों को गोद लिया है। दीया के बड़े बेटे का नाम पद्मनाभ सिंह और छोटे बेटे का नाम लक्ष्यराज सिंह है। अब इस राजघराने के यही दो वारिस हैं।

आपको जानकर हैरानी होगी की इस राजघराने का ताल्लुक बड़े बड़े बॉलीवुड स्टार्स से है। अक्सर महारानी से मिलने के लिए यहां बड़े बड़े स्टार आते रहते हैं।

देखें वीडियो-

Leave a Reply

Your email address will not be published.