बैठने का तरीका बताता है कि कैसा है आपका स्वभाव, टांगो को खोलकर वाले होते हैं….

क्या आपको मालूम है कि बैठने के तरीकों से भी किसी व्यक्ति का स्‍वभाव जाना जा सकता है। जी हां, आपको भले ही यह जानकर हैरानी हो लेकिन यह बात पूरी तरह से सच है कि किसी भी व्यक्ति के बैठन के तरीके से उसके बारे में जाना जा सकता है। बैठने का तरीका किसी का स्वभाव बताता है। यह भी एक तरह से शरीर की भाषा होती है जिससे कोई भी यह जान सकता है कि हमारी पर्सनैलिटी कैसी है। तो आइये जानते हैं कि बैठने की कुछ ऐसी पोजीशन के बारे में जो आपकी पर्सनैलिटी के राज खोलती हैं।

बैठने का तरीका किसी का स्वभाव बताता है

#पैरों को मोड़कर (क्रॉस लेग)

अगर आप फर्श पर अपने पैरों को मोड़कर बैठते हैं तो यह इंगित करता है कि आप खुले और लापरवाह टाइप के व्यक्ति हैं। यह दर्शाता है कि आप शारीरिक रूप से नए विचारों के हैं। इस तरह से बैठने से पता चलता है कि आप भावनात्मक रूप से कमजोर हैं। क्रॉस लेग यानि पैरों को मोड़कर बैठने वाले लोग ओपन और लापरवाह होने के साथ साथ पोजीटिव सोच वाले भी होते हैं। इस तरह बैठने वाले लोगों को क्रिएटिव माना जाता है। लापरवाह और जिंदगी को इज्वाय करने की ख्वाहिश में इन लोगों को घूमना बेहद पसंद होता है।

#टांगो को खोलकर

बैठने का तरीका किसी का स्वभाव बताता है। जो लोग जांघो को जोड़कर और टांगो को खोलकर और पैरों को अंदर से मोड़ कर बैठते हैं वे जिंदगी में आगे बढ़ने की कोशिश करते रहते हैं। ऐसे लोग ये मानते हैं कि जीवन में आने वाली परेशानियों को वे नजरअंदाज कर देंगे तो समस्या खुद-ब-खुद खत्म हो जाएगी। लेकिन, ऐसे लोगों की यह सोच बिल्कुल भी सही नहीं होती है। ऐसे बैठने वाले लोग अपनी समस्याएं दूसरों पर डालने में विश्वास रखते हैं। यह खुद को किसी समस्या से बचाने के लिए हर संभव प्रयास करते हैं। इस प्रकार बैठने वाले लोगों की एक विशेषता ये भी है कि ये अपनी सोच को किसी के ऊपर थोपने की कोशिश करते हैं।

#पैरों को अंदर मोड़कर बैठने वाले

वो लोग जो पैरों को अंदर मोड़कर बैठना पसंद करते हैं वो आराम-परस्त होते हैं। ऐसे लोगों को ज्यादातर समय अकेले रहना पसंद होता है। ऐसे लोग अपनी आस-पास की हर चीज को परफेक्ट करना चाहते है। इसके लिए वो हर कोशिश करते हैं और अंत में सफल भी होते हैं। लेकिन, ऐसे लोगों की एक विशेषता ये भी है ये लोग कोई भी निर्णय लेने से पहले सौ बार विचार करते हैं।

#जांघों और पैरों को सीधे जोड़कर बैठने वाले

जांघों और पैरों को सीधे जोड़कर बैठने वाले लोग समय के पाबंद होते हैं। ऐसे लोग अपना हर काम समय पर करना पसंद करते हैं। लेकिन, ऐसे लोगों की एक जो सबसे बड़ी कमजोरी हैं वो ये है कि ये लोग दूसरों के सामने अपनी भावनाएं व्यक्त नहीं कर पाते हैं। इसलिए उन्हें कई बार परेशानी की भी सामना करना पड़ता है। इसी वजह से वो कई बार गुस्सा भी दिखाते हैं।

# पैरों को टेढ़ा करके बैठने वाले

पैरों को टेढ़ा करके बैठने वाले लोग इस सोच के साथ जीते हैं कि समय के साथ उन्हें हर चीज खुद ब खुद मिल जायेगी। उनका मानना होता है कि वक्त के साथ वो हर चीज पा लेंगे जो वो चाहते हैं। इसी सोच की वजह से वो हर काम में जल्दबाजी नहीं दिखाते हैं। लेकिन, ऐसे लोगों की एक सबसे बड़ी कमजोरी हद से ज्यादा जिद्दी होना होता है।