राज्यसभा चुनाव में राजा भैया के इस दांव से बिगड़ सकता है माया-अखिलेश का खेल

यूपी की दस राज्यसभा सीटों पर मतदान जारी है। ऐसे में यूपी का सियासी गणित अपने चरम पर है। यहां लड़ाई दसवी  सीट के लिए है, क्योंकि इस सीट पर बीजेपी औऱ विपक्ष की लड़ाई टक्कर की है, ऐसे में इस लड़ाई में अखिलेश और बुआ की जोड़ी को राजा भैया ने बड़ी चुनौती दे दी है। जी हां, राजा भैया जिन्हें अखिलेश ने वोट के लिए मनाया था, उन्होंने ये कह दिया कि वो अखिलेश के साथ तो है, लेकिन माया को नहीं भूला सकते हैं। आइये जानते हैं कि हमारे इस रिपोर्ट में क्या खास है?

राज्यसभा चुनाव में बसपा और सपा का गठबंधन विधायकों को रास नहीं आ रहा है, यही वजह है कि क्रास वोटिंग हो रही है। बता दें कि सपा ही नहीं, बसपा विधायकों को भी ये गठबंधन रास नहीं आ रहा है, हालांकि वोटिंग के पहले किसी ने खुलकर विरोध नहीं किया था, लेकिन अब वोटिंग के दौरान विधायकों के सुर बदल रहे हैं, जिसकी वजह से बसपा-सपा का खेल बिगड़ने के कगार पर आ चुका है, ऐसे में इसका फायदा बीजेपी को हो सकता है।

बताते चलें कि उपचुनाव में बीजेपी को करारी शिकस्त देने वाली जोड़ी अखिलेश और मायावती के लिए राज्यसभा का सफर तय करना आसान नहीं है, क्योंकि दोनों के ही विधायक इससे खुश नहीं है, और ऐसे में वो क्रास वोटिंग कर रहे हैं, जोकि अखिलेश के लिए चिंता का विषय बन सकता है, ऐसे में अब अखिलेश को एक एक कदम फूंक कर रखना होगा। बता दें कि मायावती को रिटर्न गिफ्ट के लिए अखिलेश ने राजा भैया से समर्थन मांगा तो उन्होंने हां तो कर दिया, लेकिन अब उन्होंने नया बयान दे दिया।

राजा भैया बोले ‘अखिलेश के साथ हूं, पर मायावती के नहीं’

राजा भैया ने कहा कि मैं अखिलेश का समर्थन तो करता हूं, लेकिन मायावती का नहीं। मैंने समर्थन तो किया लेकिन वोट बसपा के लिए नहीं करूंगा, क्योंकि मैं मायावती द्वारा बरपाये गये कहर को नहीं भूल सकता हूं। बता देंं कि यूपी में जब मायावती का शासन था, तब मायावती ने राजा भैया को जेल भिजवा दिया था, जिसको अभी तक राजा भैया नहीं भूलेंं, शायद अब वो इसी बात का बदला ले रहे हैं।

बहरहाल, देखना ये होगा कि यूपी की दसवीं सीट पर किसका कब्जा होगा, ये तो खैर नतीजे आने के बाद ही पता चलेगा, लेकिन मुकाबला फिलहाल बहुत टक्टक का देखने को मिल रहा है, क्योंंकि ये नतीजे यूपी की आगामी सियासत को भी तय करेंगे, ऐसे में सबकी निगाहें दसवी सीट पर टिकी हुई है।