इस दिन भूलकर भी न तोड़े तुलसी के पत्ते, वरना हो जाएंगे कंगाल और बर्बाद

धर्म शास्त्रों में तुलसी के पौधे को बेहद पवित्र और सकारात्मक ऊर्जा प्रदान करने वाला माना गया है। इसलिए, हर हिन्दु के घर तुलसी का पौधा लगाया जाता है और उसकी हर रोज पूजा की जाती है। तुलसी का पौधा घर में सुख-शांति के साथ साथ समृद्धी भी लेकर आता है। लेकिन, तुलसी का पौधा जितना सकारात्मक है उतना ही नकारात्मक भी हो सकता है अगर एक विशेष बात का ध्यान न दिया जाये। यह बात तुलसी के पत्तों को तोड़ने से जुड़ी हुई है। आज हम आपको बताएंगे की किस दिन तुलसी के पत्ते नहीं तोड़ने चाहिए। भूलकर भी इस दिन तुलसी के पत्ते न तोड़े क्योंकि यह आपके लिए अशुभ हो सकता है।

तुलसी से मिलती है पवित्र और सकारात्मक ऊर्जा

आपके घर में तुलसी का पौधा नहीं है तो आज ही लगा लिजिए। क्योंकि, तुलसी का पौधा लगाना बहुत शुभ माना जाता है। मान्यता है कि भगवान श्री हरि तुलसी के ह्रदय में शालिग्राम रुप में निवास करते हैं। यही वजह है कि तुलसी को बहुत ही फलदायी माना जाता है। तुलसी का पूजन हमेशा करना तो फलदायी होता है। तुलसी से पवित्र और सकारात्मक ऊर्जा मिलती है। ऐसी मान्यता है कि तुलसी पर भगवान विष्णु की विशेष कृपा है।

तुलसी इसलिए भी फलदायी है क्योंकि, इसपर देवी-देवताओं की कृपा होती है। घर में तुलसी का पौधा होना धार्मिक रुप से महत्वपूर्ण होता है। इसके अलावा, यह स्वास्थ्य के लिए भी लाभदायक होती है। पुराणों और शास्त्रों के अनुसार ऐसी मान्यता है कि जिस घर पर मुसीबत आने वाली होती है उस घर से सबसे पहले लक्ष्मी यानी तुलसी चली जाती है। यानि अगर आपने अपने घर में तुलसी का पौधा लगा रखा है तो वह इस बात का संकेत दे देता है। मान्यता के मुताबिक, दरिद्रता, अशांति और क्लेश के बीच लक्ष्मी जी के जैसे ही तुलसी का भी निवास नहीं होता।

भूलकर भी इस दिन तुलसी के पत्ते न तोड़े

हर घर में तुलसी की पूजा हर रोज होती है। लेकिन, इस बात से काफी लोग अंजान होंगे की शास्त्रों के मुताबिक, कुछ विशेष दिन बनाये गए हैं। इस दिन तुलसी के पत्ते न तोड़े। क्योंकि, इस दिन तुलसी के पत्ते को तोडना बेहद अशुभ माना जाता है। शास्त्रों के अनुसार, एकादशी, रविवार, सूर्य ग्रहण और चंद्र ग्रहण के समय तुलसी के पत्ते नहीं तोड़ने चाहिए। यह बेहद अशुभ होता है। शास्त्रों में इसे पाप की श्रेणी में रखा गया है। ऐसी मान्यता है कि इन दिनों में तुलसी के पत्ते न तोड़ने से घर में दरिद्रता आती है।

इसके अतिरिक्त रात के समय भी तुलसी के पत्तों को नहीं छूना चाहिए। भूलकर भी कभी रात में और ऊपर बताये गए दिनों में तुलसी का पत्ता न तोड़े। इसके इलावा, जरुरत के बिना तुलसी के पत्ते तोडना अशुभ है। आपको बता दें कि तुलसी न सिर्फ धार्मिक दृष्टी से फलदायक है बल्कि भौतिक दृष्टी से भी इसके कई लाभ हैं। तुलसी सर्दी, जुखाम, खासी जैसी बीमारियों के अलावा सांस संबंधी बीमारियों को भी दूर करने में भी काफी लाभदायक है। तुसली के पत्तों से कई लाइलाज बीमारियों का भी इलाज किया जाता है।