विशेष

अगर खुलवा रखा है एक से ज्यादा बैंक अकाउंट, तो पढ़ लिजिए ये खबर नहीं तो पड़ेगा पछताना

नई दिल्‍ली – भारत का एक बड़ा देश है जिसमें कई वर्ग के लोग रहता हैं। एक तरफ, तो यहां ऐसे लोग हैं जिनके पास इतने पैसे हैं कि बचत और निवेश के लिए उन्हें कई बैंक खातों की आवश्यकता होती है, दूसरी तरफ करोड़ो लोग ऐसे भी हैं जिनके पास एक भी बैंक खाता नहीं है। आज के दौर में ज्यादातर लोग एक से ज्यादा बैंक अकाउंट रखते हैं। कुछ लोगों के लिए यह जरूरत है तो कुछ लोगों ने बिना जरूरत के भी एक से ज्यादा बैंक अकाउंट खुलवा रखे हैं। लेकिन, ऐसे लोगों को ये बात जानकर हैरानी होगी कि उन्हें एक से ज्यादा बैंक अकाउंट खुलवाने से कितनी हानि हो रही है।

एक से ज्यादा बैंक अकाउंट के फायदे

अगर आपके पास एक से ज्यादा बैंक अकाउंट है तो आप एटीएम का इस्तेमाल कर बचत खातों से दैनिक एटीएम पर पैसे निकासी की एक निश्चित सीमा से अधिक पैसे निकाल सकते हैं। लेकिन, जिनके पास केवल एक ही बैंक अकाउंट है वो इसका लाभ नहीं ले सकते। इसके अलावा एटीएम से पैसे निकालने पर बैंक चार्ज भी काटता है। इसलिए अगर आपके पास एक से ज्यादा बैंक अकाउंट है तो आप फ्री सर्विस तक ही दोनों अकाउंट से पैसे निकाल सकते हैं।

एक से ज्यादा बैंक अकाउंट का दुसरा सबसे बड़ा लाभ है कि जो बैंक आपको अधिक ब्‍याज ऑफर करे आप उसमें अपना पैसा लगा सकते हैं। इसके अतिरिक्त अगर आपके पास एक से अधिक बैंक एकाउंट है तो आप दोनों बैंकों की ओर से मिलने वाली कई शानदार स्कीम का लाभ उठा सकते हैं। एक से ज्यादा बैंक अकाउंट होने से आपके पास कई चेक बुक होंगे और आप अलग अलग बैंक के क्रेडिट कार्ड लें सकते हैं।

एक से ज्यादा बैंक अकाउंट के नुकसान

अगर आपके पास एक से ज्यादा बैंक अकाउंट है तो अमूमन आपको ऑनलाइन बैंकिंग करने में समस्या का सामना करना पड़ता है। कई लोगों के लिए एक ही बैंक की आईडी, पासवर्ड याद रखना मुश्किल होता है। ऐसे में अगर उनके पास दो या दो से अधिक बैंक अकाउंट हो तो उनके लिए यह बेहद मुश्किल हो जाता है। आप चाहे किसी बैंक से ट्रांजेक्शन करें या न करें आपने जिस बैंक में अकाउंट खुलवा रखा है उसका सालाना मेंटनेंस फीस और सर्विस चार्ज देना ही पड़ता है। इसलिए अगर आप एक से अधिक बैंक अकाउंट का इस्तेमाल करते हैं तो यह आपके लिए सही नही है। इसके अलावा, बैंक में पैसे जमा करने पर आपको ज्यादा से ज्यादा 5 से 6 फीसदी ही सालाना रिटर्न मिलता है।

लेकिन, अगर आप सेविंग अकाउंट में पैसे रखने की बजाए उसे दूसरी योजनाओं जैसे पोस्ट ऑफिस, शेयर बाजार, म्युचुअल फंड, सरकारी बॉन्ड लिकिवडिटी फंड या एफडी में लगाते हैं तो आपका सालाना रिटर्न कई गुना बढ़ सकता है। लेकिन, अगर आप दो बैंक अकाउंट रखना ही चाहते हैं तो इसका सबसे अच्छा तरीका है कि आप एक प्रतिष्ठित सार्वजनिक क्षेत्र और दूसरा एक प्रतिष्ठित निजी क्षेत्र के बैंक में खाता खुलवाये। इससे आपका जोखिम कम होगा, अच्छी सर्विस मिलेगी और पैसे पर रिटर्न अधिक होगा। इसके अलावा, दो बैंकों के साथ बेहतर रिश्ते बनाए रखना आसान होगा, क्योंकि प्रत्येक बैंक के पास आपका पैसा होगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close