घर में मौजूद हो ये 5 दोष तो नहीं टिकता पैसा, आजीवन रहता है दुर्भाग्य

कई बार व्यक्ति के किए गए कर्म भी निष्फल हो जाते हैं.. क्योंकि जीवन में कर्म के साथ-साथ वाह्य परिस्थितियां और इंसान का भाग्य भी जिम्मेदार होता है .. ऐसे अगर नियति का साथ ना हो तो मेहनत से अर्जित किया गया धन भी नहीं टिक पाता है और ना ही इंसान चाह कर भी सुखी रह पाता है.. पर इसके साथ ही सवाल ये है कि भाग्य या किस्मत को कोई कैसे बदले क्योंकि इस पर तो इंसान को कोई बस नहीं होता है.. लेकिन आपको बता दें ऐसी बहुत सी चीजें है जो कि आपके भाग्य को प्रभावित करती है या उनका आपके भाग्य पर शुभ-अशुभ फल पड़ता है और वास्तुशास्त्र इसी के बारे में बताता है कि कैसे आप अपने आस-पास की चीजों की व्यस्थित कर अपने भाग्य को बदल सकते हैं।

आज हम आपको उन वास्तु दोषों के बारे में बताने जा रहे हैं जिनकी उपस्थिति में इंसान हमेशा अभाव से ग्रस्त रहता है और अगर इनका निवारण समय रहते ना किया जाए तो घनी से धनी व्यक्ति या करोड़पति व्यक्ति भी रोडपति बन सकता है।

असल में देखा जाए तो वास्तु का किसी व्यक्ति के जीवन में विशेष महत्व होता है.. हम उस पर ध्यान दे या ना दें पर हमारे घर में मौजूद वास्तुदोष अपना प्रभाव डालते ही हैं। ऐसे में हम वास्तु ज्ञान के अभाव में ये जान नहीं पाते हैं किस बात की वजह से दुर्भाग्य हमारा साथ नहीं छोड़ रहा है .. जबकि हम अपने कर्म अपनी सामर्थ्य अनुसार करते रहते हैं लेकिन फिर भी उनका उचित फल नहीं मिल पाता है। ऐस में आपके लिए अपने घर में मौजूद वास्तु दोष को पहचानना और उसका निवारण करना बेहद जरूरी हो जाता है .. आज हम आपको ऐसे ही कुछ वास्तु दोष के बारे में बता रहे हैं जिनके कारण व्यक्ति के जीवन में हमेशा पैसों का अभाव और दुर्भाग्य बना रहता है।

1.  उत्तर-पूर्व दिशा में गंदगी होना

दरअसल वास्तु के अनुसार उत्तर-पूर्व दिशा धन आगमन की दिशा होती है.. ऐसे में जिस घर में इस दिशा में गंदगी या उचित साफ-सफाई का अभाव होता है, वहां हमेशा धन से सम्बंधित परेशानी रहती है .. ऐसे घर में जहां धन का आगमन बहुत धीमी गति से होता है और वहीं घर आया पैसा भी अधिक समय तक नहीं टिकता और वो व्यर्थ के कार्यो में जल्द ही खर्च हो जाता है।

2 उत्तर-पश्चिम दिशा में अंधेरा रहना

वास्तु के अनुसार उत्तर-पूर्व दिशा की तरह ही उत्तर-पश्चिम दिशा भी आर्थिक सम्पन्नता के लिए महत्वपूर्ण मानी जाती है। ऐसे में अगर इस दिशा में हर वक्त अंधेरा हो तो धन की हानि होती है और साथ ही परिवार में आपसी मतभेद रहता है ।

3. दक्षिण दिशा में तिजोरी या आलमारी का होना

दक्षिण दिशा में आलमारी या तिजोरी का होना भी एक बड़ा वास्तु दोष है .. वास्तु शास्त्र के अनुसार इस दिशा में आलमारी या तिजोरी होने पर धन की हानि होती है। ऐसे में अगर आपके घर में ऐसा दोष है तो इससे बचने के लिए आलमारी या तिजोरी पर एक लाल रिबन में तीन सिक्के बांध कर टांग दें।

4. उत्तर पूर्व दिशा में रसोई का होना

इसके साथ ही वास्तु के अनुसार जिन घरों में उत्तर पूर्व दिशा में रसोई होती है, उस घर की आर्थिक स्थिति हमेशा कमजोर रहती हैं.. वहीं अगर पश्‍चिम या दक्षिण-पूर्व दिशा में रसोई हो तो घर में आर्थिक सम्पन्ना बनी रहती है।

5. गृहस्वामी का घर के दक्षिण-पूर्व दिशा में सोना

वहीं अगर घर का मुखिया घर के दक्षिण-पूर्व दिशा में बने कमरे में सोता हो तो फिर घर में अनावश्यक परेशानी बनी रहती है। आर्थिक समस्याओं से लेकर घर के सदस्यों में आपसी मतभेद बना रहता है।

ऐसे में अगर आपके घर में इन पांच वास्तु दोष में से कोई एक भी हो तो तुरंत उसका निवारण कर लें।अन्यथा आजीवन आपको दुर्भाग्य झेलना पड़ सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.