अमित शाह ने राहुल गांधी पर साधा उन्ही के अन्दाज़ में निशाना, सुनकर छूट जाएगी आपकी हँसी

नई दिल्ली: सियासत की जंग चुनाव आते ही और तेज़ हो जाती है। इस समय यही हाल भाजपा और कांग्रेस के बीच देखने को मिल रहा है। जैसे-जैसे कर्नाटक के विधान सभा चुनाव नज़दीक आ रहे हैं दोनो के निशाना साधने का सिलसिला तेज़ी से बढ़ता जा रहा है। इस काम में ना ही कांग्रेस पीछे है और ना ही भाजपा। लेकिन इस कड़ी में भाजपा के अध्यक्ष अमित शाह बाज़ी मरते हुए दिखाई दे रहे हैं।

मोदी जी बताओ आपने 4 साल में क्या किया?

दरअसल एक तरह कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी लगातार प्रधानमंत्री मोदी और भाजपा पर निशाना साधे हुए हैं, वहीं जवाबी कार्यवाई में भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह कांग्रेस के शासन को जमकर कोश रहे हैं। हाल ही में कांग्रेस के बिदर में भाजपा अध्यक्ष अमित ने कांग्रेस के लाड़ले को उन्ही के अन्दाज़ में जवाब दिया। आपको बता दें राहुल गांधी पर पलटवार करते हुए अमित शाह ने राहुल गांधी की मिमिक्रि की। अमित शाह ने राहुल गांधी के अन्दाज़ में बोलते हुए कहा कि, ‘अभी राहुल बाबा कर्नाटक में घूम रहे हैं और बड़े ज़ोर-ज़ोर से बोल रहे हैं थे कि मोदी जी बताओं आपने 4 साल में क्या किया?

जनता माँग रही है आपसे 4 पीढ़ियों का हिसाब:

इसके बाद अमित शाह ने जो कहा उसे सुनकर सच में आपको हँसी आ जाएगी। अमित शाह ने आगे कहा कि अरे राहुल बाबा क्यों इतना चिल्ला रहे हो, आप हमें पूछ रहे हो कि मोदी ने 4 साल में क्या किया? हमारा हिसाब माँग रहे हो। अमित शाह ने राहुल गांधी पर तगड़ा वार करते हुए कहा कि इस देश की जनता आपसे आपकी 4 पीढ़ियों का हिसाब माँग रही है। आपको बता दें कर्नाटक विधान सभा चुनाव के नज़दीक आते ही दोनो पार्टियों के रूख बदले-बदले से दिखाई दे रहे हैं। दोनो अपनी तरफ़ से कोई कमी नहीं करना चाहते हैं।

कांग्रेस सरकार की वजह से हो रही है देरी:

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने इससे पहले बोलते हुए कहा कि अगर उनकी पार्टी इस आने वाले विधानसभा चुनाव में विजयी होती है और सत्ता में आती है तो वह पड़ोसी राज्य गोवा के साथ महादयी नदी का विवाद हाल करेंगे। अमित शाह ने यहाँ पर भी कांग्रेस को नहीं छोड़ा और नदी के विवाद के समाधान में हो रही देरी के लिए कांग्रेस की सिद्धारमैया सरकार को दोषी ठहराया है। अमित शाह ने कहा कि अगर कर्नाटक के मुख्यमंत्री ने केंद्र सरकार के साथ सहयोग किया होता तो इस समस्या का समाधान हो गया होता।

अब समाप्त हो चुका है यह मुद्दा:

पूर्व उपमुख्यमंत्री के. एस. ईश्वरप्पा को चुनाव में टिकट के सवाल पर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि ईश्वरप्पा जी भाजपा के सबसे सम्मानित कार्यकर्ता और नेता हैं। पार्टी नेताओं के हितों का हर तरह से ख़याल रखना ही मेरा काम है। केंद्रीय संसदीय दल उम्मीदवारों की सूची की घोषणा करेगा। अगर आपको याद होगा तो कुछ दिनों पहले भाजपा के केंद्रीय मंत्री अनंत हेगड़े ने संविधान बदलने को लेकर कुछ कहा था। इसपर सवाल पूछे जाने पर अमित शाह ने कहा कि अब यह मुद्दा समाप्त हो गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.