विशेष

रिसर्च का खुलासा, इतने पैसे देकर खरीदी जा सकती हैं ‘खुशियां’, जानिये कैसे?

आमतौर पर ऐसा कहा जाता है कि पैसों से  दुनिया भर की चीजें तो खरीदी जा सकती हैं, पर खुशियां नहीं। पर हाल ही में हुए एक शोध ने इस बात को झुठला दिया है। दरअसल इस शोध के निष्कर्ष के रूप में ये कहा गया है कि दूसरी चीजों की तरह खुशियों की भी कीमत होती है और एक निश्चित पैसों में उसे भी खरीदा जा सकता है। चलिए विस्तार से जानते हैं इस शोध और इसके तथ्य के बारे में ..

हर इंसान आज पैसों के पीछे भागता नजर आता है लेकिन फिर भी लोग दूसरों को दुनियादारी की दुहाई देने में पीछे नहीं रहते हैं और कह देते हैं कि पैसों से खुशियां नहीं खरीद सकते हैं अगर आप की भी राय अब तक यही है तो ये खबर आपके लिए ही है। दरअसल अमेरिका की पर्डु यूनिवर्सिटी में हुए एख शोध में शोधकर्ताओें ने दावा किया है कि पैसों से जीवन की खुशियों को भी खरीदा जा सकता है और बताया है कि जीवन में संतुष्टी और खुशी के एहसास को खरीदने के लिए एक सही राशि भी होती है। वैसे इसके साथ शोधकर्ताओं का ये भी मानना है कि खुशियां खरीदने वाली ये राशि हमेशा स्थायी नहीं होती बल्कि ये स्थान और समय क्षेत्रानुसार बदलती रहती है।

इतने पैसे देकर खरीदी जा सकती हैं ‘खुशियां’ :

ये शोध दुनिया के 164 देशों में दस लाख से ज्यादा लोगों के जीवन और विभिन्न पहलुओं को ध्यान में रखकर किया गया है। इस बेहद रोचक रिसर्च को ‘नेचर ह्यूमन बिहेवियर’ में प्रकाशित किया गया है।ऐसे में ये शोध जीतोड़ मेहनत कर अधिक से अधिक पैसा कमाने की चाह रखने वालों के लिए एक प्रेरणा बन सकता है जहां ये साफ साप कहा जा रहा है कि पैसों से आप अपनी खुशी भी पा सकते हैं या सीधे शब्दों में कहे पैसों से खुशियां खरीद सकते हैं।

दरअसल व्यक्ति के आय और उनके मानसिक संतुष्टि के आधार पर किए गए इस अध्यन में शोधकर्ता इस निष्कर्ष पहुंचे हैं कि जब लोग अपने जीवन में एक सीमा तक धन संचय कर लेते हैं, तो उसके बाद उनके द्वारा कमाया जाने वाला पैसा दो चीजों पर खर्च होता है। पहला, जीवनभर की सामान्य जरूरतें पूरी करने के लिए और दूसरा खुद की भावनात्मक जरूरतें पूरी करने के लिए और इन भावनात्मक जरूरतों में शामिल है खुश रहना, मानसिक संतुष्टि आदि। ऐसे में शोधकर्ताओं ने एक अनुमान लगाया है कि जीवनभर की जरूरतें पूरी करने के लिए सामान्यतया एक इंसान को 95000 डॉलर यानि तकरीबन 60 लाख रुपये सालाना चाहिए वहीं शोधकर्ताओं का मानना है कि भावनात्मक खुशी हासिल करने के लिए 60000 से 75000 डॉलर यानि लगभग 40-50 लाख रुपये चाहिए।

वैसे इस बारे में वैज्ञानिकों का मानना है कि ये आंकड़ा समय और स्थान अनुसार बदलता सकता है। इसके साथ ही जिस व्यक्ति के पास अधिक धन है उसके लिए इन जरूरतों की कीमत और अधिक हो जाती है। वहीं शोधकर्ताओं का कहना है कि खुशी हासिल करने के वैसे तो कोई उच्चत्तम सीमा नहीं है .. इसके लिए कोई इंसान अपनी रूची और इच्छानुसार कितना भी खर्च कर सकता है।

Show More

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

Back to top button
Close