सुंजवां हमले पर ओवैसी का बड़ा बयान ‘6 में से 5 शहीद मुस्लिम, तो क्यों जाएं पाकिस्तान’

जम्मू कश्मीर: एक तरफ बार्डर पर हमारे सैनिक शहीद हो रहे है तो दूसरी तरफ सियासी गलियारों में इस पर बयानबाजी हो रही है। जी हां, आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों को लेकर राजनीति शुरू हो चुकी है। याद दिला दें कि ओवैसी ने पहले ही कहा था कि जो लोग भारतीय को पाकिस्तान जाने की बात करते हैं, उन्हें जेल होनी चाहिए, जिसके बाद बीजेपी नेता ने मुंहतोड़ जवाब दिया था। तो चलिए जानते हैं कि हमारे इस रिपोर्ट में क्या खास है?

आपको बता दें कि असदुद्दीन ओवैसी ने सुंजवां कैंप पर हुए आतंकी हमले को लेकर विवादित बयान दिया है। जी हां, ओवैसी ने कहा कि आतंकी हमले में शहीद हुए छह जवानोंं में से पांच कश्मीरी मुस्लिम थे, ऐसे में मुसलमानों की देशभक्ति को लेकर क्यों शंका किया जाता है, क्यों उन्हें पाकिस्तान जाने के लिए कहा जाता है?

आतंकी हमले को लेकर ओवैसी ने कहा कि जो लोग मुसलमानों को पाकिस्तानी समझते हैं, ऐसे लोगों को सुंजवां हमले को देखना चाहिए कि देशभक्ति में मुसलमान किसी से पीछे नहीं है। इस दौरान ओवैसी ने टीडीपी-बीजेपी गठबंधन पर निशाना साधते हुए कहा कि दोनों मिलकर ड्रामा कर रहे हैं, मिल बांट कर मिठाई खा रही है। हालांकि, बीजेपी ने ओवैसी के इस बयान को अलगाववादी बताया।

याद दिला दें कि ओवैसी ने हाल ही में कहा था कि भारतीय मुसलमानों को पाकिस्तानी कहने वाले को तीन साल की सजा देनी चाहिए, ऐसे में राष्टवादियों पर निशाना साधते हुए कहा कि अब राष्ट्रवादी खामोश क्यों है? ओवैसी ने आगे कहा कि मुस्लिम देश के लिए जान दे रहे हैं, लेकिन उन्हें पाकिस्तानी कहा जाता है, जोकि किसी भी नजरिये से ठीक नहीं है। बहरहाल, ओवैसी का ये बयान किस मोड़ पर मुड़ता है, ये तो वक्त ही बताएगा, लेकिन इस विवादित बयान को लेकर सियासी गलियारों में हलचलें जरूर शुरू होंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.