स्वास्थ्य

खर्राटे : जानिए क्यों आते हैं खर्राटे और कैसे एक दिन में आप पा सकते हैं खर्राटों से छुटकारा?

खर्राटे हर किसी के लिए चिंताजनक बात नहीं है लेकिन अगर आप नियमित रूप से रात में खर्राटे लेते हैं, तो यह आपकी नींद को डिस्टर्ब कर सकता है, जिसकी वजह से आप दिन के समय थकान, चिड़चिड़ापन और स्वास्थ्य समस्याओं का अनुभव करेंगे। ज्यादातर लोग ये मानते हैं कि महिलाओं के मुकाबले पुरुष अधिक खर्राटे लेते हैं। लेकिन, आपको बता दें कि लोगों की यह सोच पूरी तरह से गलत है। खर्राटे की समस्या किसी को भी हो सकती है और इसकी वजह कभी कभी ज्यादा थकान होती है। लेकिन, खर्राटे के एक नहीं बल्कि कई कारण हो सकते हैं। तो आइये आज आपको हम खर्राटे आने के कारण, खतरे और इससे छुटकारा पाने के तरीके बताते हैं।

खर्राटे आने का कारण?

खर्राटे तब आते हैं जब आप नींद के दौरान नाक और गले के माध्यम से हवा अंदर जाते वक्त आसपास के ऊतकों में कंपन होती है, जिससे खर्राटें की आवाज निकलने लगती है। जो लोग अक्सर खर्राटे लेते हैं उनके गले और नाक के ऊतक या “फ्लॉपी” ऊतक बहुत अधिक कंपन करते हैं। चूंकि लोगों में खर्राटे आने के विभिन्न कारण हो सकते हैं, इसलिए आपके खर्राटे के पीछे के कारणों को समझना महत्वपूर्ण है। एक बार जब आप अपने खर्राटे आने के कारण को समझ जाते हैं तो आप इसको ठीक करने के लिए उचित कदम उठा सकते हैं। और खर्राटों का समाधान पा सकते हैं।

खर्राटों के सामान्य कारण

जैसे-जैसे आपकी उम्र बढ़ती है आपका गला छोटा हो जाता है और आपके गले में मांसपेशियों की कमी हो जाती है। जब आपकी उम्र बढ़ती है तो आपकी जीवनशैली और सोने के समय में बदलाव करके खर्राटों से निजात पा सकते हैं। अधिक वजन होना भी खर्राटें आने का कारण बन सकते हैं।  यहां तक कि अगर आप वजह सामान्य रूप से अधिक है, तो आपको खर्राटे आ सकते हैं।

खर्राटों से बचाव

खर्राटे से छुटकारा पाने के लिए आपको सोने के तरीके में बदलाव करना सबसे जरुरी होता है। अगर आप एक तरफ ही करवट करके सोते हैं और पूरी रात इसी तरह से सोये रहते हैं तो आपनी इस आदत में बदलाव करें। इससे खर्राटे काम होंगे। अगर आपको ठंडी चीजें खाने का शौक है तो इसे आज ही बदल दें। इससे गला सिकुड़ने लगता है जो खर्राटों का कारण बनता है। खर्राटों से बचने के लिए अपनी नाक को साफ रखें। क्योंकि कई बार खर्राटे आने का कारण नाक साफ न होना होती है। शराब भी खर्राटे की समस्या को बढ़ा देती है। इसलिए अगर आपको इसकी आदत है तो इसे तुरंत छोड़ दें।

अगर आपको वजन बहुत अधिक है और आप खर्राटे की समस्या से परेशान हैं तो आपको अपना वजन कम करना चाहिए। इसके अलावा, खर्राटे की समस्या को दूर करने के लिए रोजाना गर्म पानी का सेवन करें। खर्राटों के उपचार का कोई फिक्स तरीका नहीं है। खर्राटों का इलाज करना एक चुनौती है। क्योंकि इसके कारण औऱ उपचार दोनों अलग अलग है। खर्राटे लेने से आस-पास के लोग परेशान होते हैं। इसलिए आज ही अपने खर्राटे का कारण पता लगाये और उसका उपचार उसी तरीके से करें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close