अगर व्यक्ति इन 7 उपायों में से शिवपुराण के अनुसार करता है एक भी उपाय तो चमक उठती है किस्मत

हिन्दू धर्म में कई देवी-देवताओं की पूजा की जाती है लेकिन त्रिदेवों का अपना ही महत्व है। हिन्दू धर्म में त्रिदेवों को सबसे मह्त्वौर्ण देवता के रूप में पूजा जाता है। उसमें भी भगवान शिव को त्रिदेवों में सबसे प्रमुख स्थान दिया गया है। यानी हिन्दू महादेव सबसे प्रमुख देवता हैं। भगवान शिव के बारे में कहा जाता है कि यह बहुत ही दयालु और भक्तों की तुरंत पुकार सुनने वाले हैं। यह अपने किसी भी भक्त को निरास नहीं करते हैं। भगवान शिव से जो भी माँगों, वह सब मिल जाता है।

भगवान शिव की खासतौर पर पूजा सोमवार के दिन की जाती है, लेकिन किसी भी दिन पूजा करने उनका फल पाया जा सकता है। हिन्दू धर्म में पुराणों और वेदों का बहुत ज्यादा महत्व है। इन्ही में से एक महत्वपूर्ण पुराण है, शिवपुराण। शिवपुराण में मनुष्य जीवन के उद्धार की कई बातों के बारे में बताया गया है। इसी महीने 14 फ़रवरी को भगवान शिव का बहुत खास दिन है। जी हाँ 14 फ़रवरी को महाशिवरात्रि पड़ रही है। पंचांग भेद की वजह से भारत के कुछ क्षेत्रों में 13 फ़रवरी को ही महाशिवरात्रि मनाई जाएगी।

ऐसा कहा जाता है कि भगवान शिव की इच्छानुसार ही ब्रह्मा जी ने इस श्रृष्टि की रचना की थी। श्रृष्टि के पालन का काम काम विष्णु जी को सौंपा गया है। शिवजी की महत्ता को इसके बाद समझाने की जरुरत नहीं है। उनकी पूजा करने वाले हर भक्त के जीवन के सभी कष्ट दूर हो जाते हैं। ऐसा कहा जाता है कि धन की समस्या को दूर करने के लिए देवी-देवताओं का खुश होना बहुत जरुरी है। शास्त्रों के अनुसार शिवलिंग की पूजा से सभी देवी-देवता खुश हो जाते हैं।

आज हम आपको भगवान शिव की पूजा के 7 उपाय के बारे में बताने जा रहे हैं। ऐसा माना जाता है कि अगर कोई व्यक्ति इनमें से एक भी उपाय करता है तो उसके जीवन से धन की कमी हमेशा के लिए दूर हो जाती है। शिवपुराण के अनुसार जो लोग शिव की आराधना करते हैं, उनका समय बदलने में समय नहीं लगता है।

भगवान शिव को पप्रसन्न करने ले लिए करें यह उपाय:

*- सबसे पहले हर सुबह पंचामृत से शिवलिंग का स्नान करवाएं। पंचामृत यानी दूध, चीनी, शहद, घी और दही का मिश्रण। इसे शास्त्रों में पूजा के दौरान विशेष महत्व दिया गया है।

*- सुबह-सुबह स्नान करके शिवलिंग पर चावल चढ़ाएं।

*- सबसे पहले एक तांबे के लोटे में जल भरें और उसमें काला तिल मिलाएं। उसके बाद उस जल को शिवलिंग पर अर्पित कर दें। ऐसा आप हर रोज करें।

*- प्रत्येक शाम को शिवलिंग के पास दीपक जलाएं। इससे जीवन के सभी कष्ट दूर हो जायेंगे।

*- हर सुबह शिवलिंग पर 11 बेलपत्र चढ़ाएं। इससे भगवान शिव की विशेष कृपा मिलेगी।

*- हर रोज शिवलिंग के पास बैठकर ॐ नमः शिवाय का 108 बार रुद्राक्ष की माला से जाप करें। यह उपाय प्रतिदिन करें।

*- तांबे के लोटे में जल भरकर उसमें थोड़ा केसर मिलाएं। अब उस जल को भगवान शिव के शिवलिंग पर अर्पित कर दें।

जो भी व्यक्ति शिवलिंग के इन उपायों को हर रोज करते हैं, उनके जीवन के सभी दुःख दूर हो जाते हैं। साथ ही कुंडली के दोषों से भी मुक्ति मिलती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.