ब्रेकिंग न्यूज़

पर्रिकर ने दी पाक को चेतावनी, कहा- जरूरत पड़ी तो फिर घुस कर मारेंगे

दिल्लीः सिटी मांटेसरी स्कूल में आयोजित एक कार्यक्रम में भाग लेने लखनऊ पहुंचे रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर( Defence Minister Manohar Parrikar.) ने पाकिस्‍तान को चेतावनी देते हुए कहा कि जरूरत पड़ी तो फिर घुसकर मारेंगे। उन्‍होंने कहा, हमारा बॉर्डर सुरक्षित है। कोई भी गलत करेगा तो उसे बख्‍शा नहीं जाएगा। रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने बड़े ही फ़िल्मी अंदाज़ में चेनावती दी। कहा कि जरूरत पड़ी तो हम फिर पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में घुसकर आतंकियों को मारेंगे। उन्होंने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक से देश में जो माहौल बना है उसे बनाए रखना जरुरी है।

सर्जिकल स्‍ट्राइक पर यह बोले Manohar Parrikar –

सर्जिकल स्‍ट्राइक को लेकर उन्‍होंने कहा कि हमने जो तय किया पीएम ने उस पर सहमति जताई। उन्‍होंने कहा कि कहावत है कि खाली बर्तन अधिक बजता है, वैसे ही अपने पड़ोसी (पाकिस्‍तान) का हाल है। पर्रिकर ने कहा कि हमने सेना से कहा है शहादत अच्‍छी बात है, लेकिन आप उनकी शहादत करो, तो ज्‍यादा बेहतर होगा।

देशवासियों का जोश बरकरार रहना चाहिए –

पर्रिकर ने कहा  – मैं सीधा हूं लेकिन टेढ़े लोगों का इलाज जानता हूं। जन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में हम किसी भी चुनौती को बेहतर ढंग से सामना करने को तैयार है। प्रधानमंत्री के नेतृत्व में देश की सीमा सुरक्षित है। उन्‍होंने कहा कि देशवासियों में जो जोश है, उसे बरकरार रहना चाहिए। बताते चलें कि सर्जिकल स्‍ट्राइक कराकर देश का गौरव बढ़ाने के लिए लखनऊ के विभिन्‍न संगठनों ने उन्‍हें सम्‍मानित किया।

फ़िल्मी अंदाज़ में पाक को दी चेतावनी –

रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने बड़े ही फ़िल्मी अंदाज़ में चेनावती दी। कहा कि जरूरत पड़ी तो हम फिर पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में घुसकर आतंकियों को मारेंगे। उन्होंने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक से देश में जो माहौल बना है उसे बनाए रखना जरुरी है।

इससे पहले आगरा में रक्षा मंत्री मनोहर पार्रिकर ने सेना की बहादुरी पर संदेह करने वालों को आड़े हाथ लिया। कहा कि सेना की कार्रवाई पर उंगली उठाने वाले कुछ ऐसे लोग भी हैं, जो देश के प्रति कभी वफादार नहीं रहे। ऐसे लोग जब सेना के काम पर उंगली उठाएंगे तो यह ऐसा अपराध है, जो जनता की नजरों में क्षम्य नहीं है। उन्होंने कहा कि हमको किसी को सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत देने की जरूरत नहीं। देशद्रोहियों को हम क्यों किसी भी स्ट्राइक का वीडियो दे।

 

Related Articles

Close