ब्रेकिंग न्यूज़

बीजेपी के विजय रथ को रोकने के लिए राहुल ने बनाया मास्टरप्लान, जानिये क्या है पूरा मांजरा

नई दिल्ली: बीजेपी जब से केंद्र की सत्ता में काबिज हुई है, तब से ही कांग्रेस हाशिये पर आ चुकी है। ऐसे में पार्टी के सामने सबसे बड़ी चुनौती अपने वजूद को बचाकर रखना है, लेकिन कांग्रेस के पास कोई रास्ता नहीं दिख रहा है। हाशिये पर आ चुकी कांग्रेस पार्टी की कमान राहुल गांधी ने उस वक्त संभाला जब कांग्रेस की नैया डूबती हुई नजर आ रही है, ऐसे जानते हैं कि आखिर राहुल गांधी ने इससे निपटने के लिए क्या मास्टरस्टोक बनाया है?

कांग्रेस पार्टी की कमान इस समय पूरी तरह राहुल गांधी के हाथ में हैं, ऐसे में राहुल गांधी के लिए कांग्रेस को उस मुकाम पर पहुंचाना सबसे बड़ी चुनौती है, जहां पर कांग्रेस पांच साल पहले थी। बताते चलें कि जब से राहुल गांधी राजनीति में सक्रिय हुए हैं, तब से कांग्रेस पार्टी तमाम चुनाव हार चुकी हैं, ऐसे में राहुल ये तो समझ चुके हैं कि बीजेपी को हराने के लिए दुसरे हथकंडें प्रयोग करना पड़ेगा, तभी तो कांग्रेस का बेड़ा गर्ग हो पाएगा।

ऐसे में अपनी पार्टी की साख को बचाए रखने के लिए राहुल ने सियासत को जमीन पर उतारने की एक कोशिश की, जोकि कांग्रेस के लिए कारगर साबित होती दिख रही है, हालांकि राहुल की इस कोशिश को रंग लाने के लिए कांग्रेस को अभी कई चुनावों में भी मात खानी बाकी हैं। राहुल का सियासत को जमीन पर लाने का सबसेे बड़ा नतीजा गुजरात को माना जा रहा है, क्योंकि जिस तरह से राहुल गांधी ने वहां कांग्रेस की सीट को बढ़ाई है, और प्रचार में बीजेपी के कई दिग्गजों को राहुल के सामने उतरना पड़ा उससे यही साफ होता है कि कांग्रेस की गाड़ी अब सही पटरी पर चलने लगी है।

गुजरात ही नहीं, अगर राजस्थान उपचुनावों की बात की जाए तो अब तक राजस्थान में कुल 8 उपचुनाव हुए, जिसमें से 6 में कांग्रेस ने जीत हासिल की, यहां सिर्फ बीजेपी 2 ही उपचुनाव जीत पाई है, ऐसे में कांग्रेस के लिए ये थोड़ी ऊर्जा भर देने वाली है। बता दें कि राहुल गांधी कांग्रेस को सख्त निर्देश दिये हैं कि नेताओं को जमीन पर उतरकर सियासत करना है, जिसका नतीजा कांग्रेस को धीरे धीरे ही सही लेकिन आने वाले समय में जरूर मिल सकता है।

ये भी पढ़े: राजस्थान उपचुनाव में बीजेपी को मिली करारी शिकस्त, राहुल बोले ‘जनता ने किया खारिज’

राहुल गांधी अपने नेताओ और कार्यकर्ताओं को कई बार ये कह चुके हैं कि बीजेपी अजय होकर नहीं आई है, ऐसे में निराश नहीं बल्कि हमें काम करना चाहिए, ताकि हम अपनी पार्टी को फिर से बेहतर बना सके, इसके लिए राहुल ने बीजेपी के हर मुद्दे पर पैनी नजर भी रखनी शुरू कर दी है। बहरहाल, देखना ये होगा कि राहुल की ये जमीनी सियासत क्या बीजेपी के विजय रथ को रोकने में सफल हो पाएगी?

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close