मुख्य समाचार

आख़िरकार पाकिस्तानी सुपरीटेंडेंट ने स्वीकार किया सर्जिकल स्ट्राइक का सच: विडियो देखें!

पाकिस्तान के उरी हमले के जवाब में भारतीय सेना ने POK में घुसकर सर्जिकल स्ट्राइक की थी, उसका सच बाहर आ गया है। पाकिस्तान POK में हुई सर्जिकल स्ट्राइक से मना कर रहा था (Surgical strike –  at least five Pakistani soldiers killed disclosures by a senior officials)। उसका कहना था कि ऐसी कोई भी घटना नहीं हुई है।वह भारत को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर झूठा साबित करने की कोशिश कर रहा था। पाकिस्तान के इस कदम में भारत के भी कुछ लोग शामिल थे, वे भी सर्जिकल स्ट्राइक  के सबूत माँग रहे थे। सच को छुपाने की पाकिस्तान द्वारा बहुत कोशिश की गयी लेकिन सच सामने आ ही गया है।

CNN-News18 समाचार एजेंसी के इन्वेस्टीगेटिव एडिटर मनोज गुप्ता और पाक के एक पुलिस अधिकारी के बीच सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर बात- चित हुई थी, जिसका ऑडियो अब सामने आ गया है। ऑडियो के बाहर आते ही पाकिस्तान के झूठ का पता चल गया है। ऑडियो के बाहर आते ही भारत के कुछ नेता जो सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत माँग रहे थे उनकी बोलती भी बंद हो जाएगी। ज्ञात हो की दो दिन पहले कांग्रेस के कुछ नेता और दिल्ली के सीएम अरविन्द केजरीवाल ने सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत मांगे थे।

भारत के जवानों ने दुश्मन के घर में घुसकर वहाँ के आतंकियों को ढेर किया और उनके नापाक इरादों को नाकाम किया था, अगर पाकिस्तान यह बात स्वीकार करता तो उसकी ही बदनामी होती। इस घटना के बाद पाकिस्तान को दो बार विश्व के सामने शर्मिंदा होना पड़ा। पहला इस वजह से कि वह भारतीय सेना से टकराने के काबिल नहीं है, वह भारत के सामने कुछ भी नहीं है। दूसरा ये कि पूरा विश्व अब जान चुका है कि पाकिस्तान आतंकियों का ठिकाना है और वहाँ की सरकार उनके साथ है।
पाकिस्तान ने तो जो किया समझ में आता है लेकिन अपने ही देश के कुछ नेताओं ने देश की इज्जत को वैश्विक स्तर पर खराब करने की कोशिश की है। उन्होंने ने सेना के ऊपर सवालिया निशान खड़ा किया है। इसके अलावा विदेशी चैनलों के कुछ कथित पत्रकारों ने भी पाकिस्तान की बात मानकर भारतीय सेना पर शक किया। लेकिन कहते हैं ना कि सच्चाई को छुपाया नहीं जा सकता है, देर- सवेर बाहर आ ही जाती है।

देखिए विडियो –

https://youtu.be/eNe_jt_yYs0

Related Articles

Close