तेजस्वी संभाल रहे राजद की कमान, पार्टी के नेता नाखुश अशोक सिन्हा ने दिया इस्तीफा

बिहार: बिहार की राजनीति में दशको तक अपना दबदबा बनाने वाले लालू यादव भले ही इस समय चारा घोटाला के मामलें में जेल में हो, लेकिन उनकी पार्टी में उनकी जगह कोई और लें, ये पार्टी को रास नहीं आ रहा है। जी हां, लालू की गैर-मौजूदगी में पार्टी का कार्यभार उनके लाल यानि तेजस्वी यादव संभालते नजर आ रहे हैं, लेकिन तेजस्वी से पार्टी के कई दिग्गज नेता नाखुश नजर आ रहे हैं। आइये जानते  हैं कि हमारे इस रिपोर्ट में खास क्या है?

बिहार में सालो तक राज करने वाली राजद  पर एक के बाद एक मुसीबतें आती जा रही है, ऐसे में राजद के लिए ये समय बहुत ही चुनौतियों भरा है, क्योंकि राजद प्रमुख जेल में है, ऐसे में पार्टी के कई दिग्गज नेता पार्टी से बगावत करने के फिराक में नजर आ रहे हैं। लालू यादव के जेल में होने की वजह से पार्टी का कार्यभार तेजस्वी के कंधों पर है, लेकिन इससे पार्टी के बड़ा तबका नाखुश है, ऐसे में तेजस्वी के सामने सबसे बड़ी चुनौती पिता की विरासत को संभाल कर रखना है।

तेजस्वी से आरजेडी के कई नेता नाखुश है, इसी कड़ी में आरजेडी के महासचिव अशोक सिन्हा ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। बता दें कि अशोक सिन्हा इस्तीफा की वजह को साफ बताते हुए कहा कि वह लालू की जगह पार्टी की कमान संभाल रहे तेजस्वी की कार्यशैली में काम करना उनके लिए उचित नहीं है। मतलब साफ है कि तेजस्वी के कामकाज से अशोक सिन्हा नाखुश है। अशोक सिन्हा ने  आगे कहा कि मौजूदा दौर में आरजेडी अप्रासंगिक हो गई है, ऐसे में मेरे लिए यहां समय बर्बाद करने से अच्छा है कि पार्टी ही छोड़ दी जाए।

गौरतलब है कि आरजेडी में टूट की शुरूआत हो चुकी है। ऐसे में तेजस्वी यादव को लालू की तरह ही पार्टी को एकजुट रखने की कोशिश करनी चाहिए। बहरहाल, यह देखना होगा कि महासचिव अशोक के इस्तीफा के बाद क्या पार्टी के और भी दिग्गज नेता इस्तीफा देंगे या तेजस्वी बिखरती हुई पार्टी को तेजस्वी बचाने में कामयाब हो पाएंगे?

Leave a Reply

Your email address will not be published.