ब्रेकिंग न्यूज़

मोदी सरकार के लिए साल 2018 बेहद खास, ऐसे समझिये बीजेपी की रणनीति

देश: कांग्रेस मुक्त भारत का सपना लेकर 2014 के लोकसभा चुनाव से केंद्र की सत्ता पर राज करने वाली बीजेपी के लिए साल 2018 बेहद खास माना जा रहा है। जी हां, इस साल कई राज्योंं में चुनाव होने के साथ ही कहीं कही लोकसभा उपचुनाव भी होंगे, ऐसे में बीजेपी के पास एक सुनहरा मौका है, अपने सपने को पूरा करने का। आइये जानते हैं कि हमारे इस रिपोर्ट में खास क्या है?

केंद्र की मोदी सरकार के लिए साल 2018 कई मायनों में बेहद खास माना जा रहा है, जिसके पीछे की पहली वजह ये है कि इस साल 8 राज्यों में विधानसभा चुनाव और कई जगह लोकसभा उपचुनाव होने हैं, ऐसे में बीजेपी सभी चुनावों में फतेह करना चाहती है। बता दें कि इन 8 राज्यों में कई जगह बीजेपी की ही सरकार है, ऐसे में बीजेपी के लिए राह  थोड़ी आसान मानी जा रही है।

विधानसभा चुनाव के अलावा अगले साल लोकसभा चुनाव भी है, ऐसे में बीजेपी की रणनीति अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव को लेकर भी है। बता देंं कि इस साल बीजेपी जो भी योजनाएं या अभियान शुरू करेगी, वो इसी रणनीति के तहत करेगी कि उसका मुनाफा उसे 2019 के लोकसभा चुनाव में भी मिले। बताया जा रहा है कि रोजगार के मुद्दे पर अपनी आलोचनाओं को मुंह तोड़ जवाब देने के लिए इस साल के बजट में रोजगार संबंधी कई योजनाओं को जगह दी जाएगी, जिससे लोकसभा और विधानसभा दोनों चुनावों में बीजेपी को इसका फायदा मिले।


बता दें कि फरवरी में पूर्वोत्तर के राज्य मेघालय, त्रिपुरा और नागालैंड में विधानसभा चुनाव होने है, इसके अलावा मिजोरम में भी इसी साल चुनाव होने है। इन राज्यों के अलावा बीजेपी शासित राज्य मध्यप्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में भी साल के आखिरी तक चुनाव होने वाले हैं। ऐसे में बीजेपी इन राज्यों में फिर से सत्ता में काबिज होने की पूरी रणनीति बना रही है, ताकि अगले पांच सालों तक इन राज्यों की चिंता से बीजेपी मुक्त हो सके। पूर्वोत्तर राज्यों के अलावा इसी साल दक्षिण भारत के 224 विधानसभा सीटों वाले कर्नाटक में भी चुनाव होने वाले है, ऐसे में बीजेपी के पास सुनहरा मौका है। बता दें कि कर्नाटक, त्रिपुरा, नागालैंड के अलावा मेघालय में भी बीजेपी सत्ता में आने के लिए हर दांव पेंच आजमाएगी ताकि कांग्रेस मुक्त भारत का सपना पूर्ण हो सके।

चुनाव के अलावा यह साल मोदी सरकार के लिए इसलिए भी खास है क्योंकि मोदी सरकार के इस कार्यकाल का आखिरी पूर्ण बजट भी पेश होने वाला है। जी हां, इस बजट में मोदी सरकार 2014 में किये गये चुनावी वादों को पूरा करने की भरपूर कोशिश करेगी ताकि 2019 के लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान बीजेपी जनता के हर सवालों का जवाब आसानी दे सके।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

Back to top button