पाक के नापाक इरादें, जवानों का सिर काटने को तैयार किया आतंकवादियों की खास टीम

नई दिल्ली: पीओके में भारतीय सेना की ओर से हुई सर्जिकल स्ट्राइक के बाद से बौखलाया पाकिस्तान अपनी नापाक साजिशों से बाज नहीं आ रहा है। सर्जिकल स्ट्राइक के बाद से नौवीं बार पाकिस्तान की ओर से सीजफायर का उल्लंघन करते हुए भारतीय सीमा पर फायरिंग की गई है। आज सुबह नौशेरा सेक्टर में पाकिस्तान ने सीजफायर का उल्लंघन करते हुए फायरिंग की गई है।  Pakistan prepared a special team of terrorists.

उसके अलावा एक अहम खुलासा हुआ है कि पाकिस्तान एक तरफ जहां पाकिस्तान भारत से बातचीत करने की बात करता है तो वहीं वह भारतीय जवानों के सिर काटकर लाने का इरादा रखता है। इसके लिए आतंकवादियों ने बकायदा एक टीम बनाई है।

hemraj-sahid-newstend-04-10-16-1

सिर काटने के लिए किया गया प्रशिक्षित (special team of terrorists) –  

विशेष रूप से सिर काटने के लिए प्रशिक्षित आतंकियों की यह ‘बॉर्डर ऐक्शन टीम’ सीमा के आसपास उन इलाकों में सक्रिय है जहां भारतीय सेना तैनात है। इसके अलावा ये आतंकी पुंछ के केजी सेक्टर में भी सक्रिय हैं। यह बात एक खुफिया रिपोर्ट में कही गई है। यह रिपोर्ट जम्मू-कश्मीर में पाकिस्तान से मदद पा रहे आतंकवादियों के जमावड़े के बारे में है।

रिपोर्ट में हुए अहम खुलासे –

खुफिया एजेंसियों के मुताबिक, 2014 और 2015 के मुकाबले घाटी में हिंसा की घटनाएं बढ़ी हैं। रिपोर्ट में कहा गया है, ‘बांदीपुर से मिली एक जानकारी से संकेत मिलता है कि आतंकवादी उन लोगों पर हमले की साजिश बना रहे हैं, जिन्होंने बारामुला में झंडा फहराने के आयोजनों में हिस्सा लिया था। लश्कर और हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकवादी बारामुला जिले में हमले की साजिश रच रहे हैं। कुपवाड़ा और बारामुला में आतंकवादियों की सबसे ज्यादा सक्रियता देखी गई है।’

भारतीय सेना के कई सैन्य शिविर आतंकवादियों के निशाने पर –

मल्टी-एजेंसी सेंटर की एक ताजा रिपोर्ट में कहा गया है कि बांदीपुर, पुलवामा, बारामूला और अनंतनाग के सैन्य शिविर भी आतंकवादियों के निशाने पर हैं। पिछले हफ्ते भारत ने पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में जिन टेरर लॉन्च पैड्स पर सर्जिकल हमला किया था, उनका जिक्र भी इस रिपोर्ट में है। इसमें कहा गया है, ‘इनपुट्स से केल, लिपा घाटी और दुधनियाल में आतंकवादियों के मूवमेंट का खुलासा हुआ है।’ इसमें कहा गया है कि उरी, नौगाम, तंगधार और माछील सेक्टरों से इंडिया में घुसपैठ करने की आतंकवादियों की साजिशों का भी पता चला है।